देहरादून,17 मई। प्रदेश में 21 मई के बाद गर्मी बढ़ने के आसार हैं। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार अभी अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य के आसपास बने हुए हैं। अगले कुछ दिन तक ज्यादातर स्थानों पर मौसम सामान्य रहने की उम्मीद है।
इससे अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोत्तरी होगी। 21 मई के बाद अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन से चार डिग्री तक अधिक हो सकता है। इससे दिन के साथ रात की गर्मी भी बढ़ जाएगी। इस साल मानसून उत्तराखंड पहुंचने में एक सप्ताह पिछड़ सकता है। केंद्रीय मौसम विभाग ने एक दिन पहले ही मानसून के केरल पहुंचने में पांच दिन की देरी होने का अनुमान जताया है। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि मानसून 27 जून के आसपास उत्तराखंड पहुंच सकता है।
सामान्य तौर पर मानसून एक जून को केरल के रास्ते भारत पहुंचता है। मौसम विभाग के अनुसार इस साल पांच जून के आसपास मानसून के देश में दस्तक देने का अनुमान है। सिस्टम सामान्य रहने पर से उत्तराखंड से केरल पहुंचने में मानसून 21 दिन का समय लेता है। ऐसे में पांच जूून को केरल पहुंचने वाला सिस्टम उत्तराखंड में भी पांच दिन पिछड़ जाएगा। इसके अलावा देश में कही भी सिस्टम कमजोर पड़ते ही मानसून की रफ्तार धीमी पड़ जाती है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार कुल मिलाकर उत्तराखंड में छह से सात दिन की देरी से मानसून के पहुंचने का अनुमान है। हालांकि उत्तराखंड समेत देश के ज्यादातर क्षेत्रों में इस वर्ष मानसून सामान्य रहने की उम्मीद जताई गई है।

Post A Comment: