देहरादून 22 अप्रैल। उत्तराखंड पुलिस के डीजी अशोक कुमार ने  पुलिस के जवानों को निर्देशित किया है कि लॉकडाउन का उल्लंघन कर अनावश्यक रूप से सड़कों पर घूमने वालों पर कानून के तहत कार्रवाई तो की जानी है लेकिन उन्हें मुर्गा बनाने या उठक-बैठक करने जैसी सजा देने से बचना है। डीजी (कानून-व्यवस्था) ने कहा कि लोगों के प्रति हमें हेल्पिंग और मानवीय दृष्टिकोण अपनाना है, संयम और सतर्कता को नहीं खोना है। पुलिस कार्य करते हुए ध्यान रखना है कि हमारी छवि सकारात्मक हो क्योंकि यह सब हम जनता के लिए ही कर रहे हैं। अशोक कुमार ने कहा कि जनता को लॉकडाउन का पालन करने के लिए प्रोत्साहित करें। इसके साथ ही उन्होंने पुलिसकर्मियों को फूल माला पहनाकर स्वागत या सम्मान किए जाने की प्रक्रिया से भी दूरी बनाए रखने को कहा है। दरअसल ऐसे कार्यक्रमों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होता है और इससे पुलिसकर्मियो को भी संक्रमण होने की पूरी सम्भावना रहती है।
डीजी (कानून-व्यवस्था) ने कहा कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी के समय में पुलिस के लिए अपनी सुरक्षा करना जरूरी है और इसलिए बेहतर है कि पुलिसकर्मी इस सबसे बचें. आपकी सुरक्षा के लिए जरूरी है कि आप इन सब से बचे रहें। दूसरी ओर उत्तराखंड का पुलिस मित्र पुलिस का काम जारी है।

Post A Comment: