देहरादून। लॉकडाउन के बीच 26 अप्रैल को गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट खुल रहे हैं। इसके साथ ही प्रदेश में विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा का आगाज हो जाएगा। चारधाम यात्रा की शुरुआत से पहले प्रदेश के उच्च हिमालयी इलाकों में भारी बर्फबारी भी हुई है। बिजली विभाग के लिए इन धामों में रोशनी करना चुनौती साबित हो रहा है। बता दें कि चारधाम यात्रा की शुरुआत में अब महज छह दिन ही शेष रह गए हैं। ऐसे में लॉकडाउन के बीच मजदूरों की कमी होने के चलते ऊर्जा विभाग के लिए विद्युत लाइनों की मरम्मत का कार्य एक बड़ी चुनौती बन चुका है। दरअसल कुछ दिन पहले हुई भारी बर्फबारी के चलते विद्युत लाइनें क्षतिग्रस्त हो गई थीं। इन लाइनों की मरम्मत कराना बेहद जरूरी है।
यूपीसीएल के प्रबंध निदेशक बीसीे मिश्रा ने बताया कि विद्युत विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त हुई विद्युत लाइनों का सर्वे का कार्य पूरा कर लिया है। सभी लाइनों की मरम्मत का कार्य जारी है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि चारधाम यात्रा की शुरुआत से पहले इन सभी विद्युत लाइनों को दुरुस्त कर दिया जाएगा. यात्रा के दौरान किसी भी तरह की कोई असुविधा नहीं होगी।

Post A Comment: