देहरादून। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए आज देश में स्वास्थ्यकर्मी दिन-रात जुटे हैं। कोरोना संक्रमितों का इलाज कर रहे यह लोग आज किसी भगवान से कम नहीं हैं। वहीं, उत्तराखंड में इस महामारी को हराने में जुटे उत्तराखंड के कई स्वास्थ्य कर्मियों को अभी तक वेतन जारी नहीं किया गया है। उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्यकर्मी अपनी जान की परवाह किए बिना मरीजों के उपचार में जुटे हैं। अब तक प्रदेश में कुल 37 कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं। लेकिन, उत्तराखंड में अब तक कई स्वास्थ्यकर्मियों को स्वास्थ्य महकमा वेतन जारी नहीं कर पाया है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम में लगे स्वास्थ्यकर्मियों को मार्च महीने के वेतन का भुगतान अब तक नहीं हुआ है। इसमें तमाम पैरा मेडिकल स्टाफ और डॉक्टर भी शामिल हैं। वहीं, दिन-रात अपनी ड्यूटी निभा रहे स्वास्थ्यकर्मियों ने इसको लेकर कोई शिकायत तक नहीं की है। कोरोना महामारी से डटकर मुकाबला कर रहे स्वास्थ्यकर्मी पूरे सेवा भाव से अपनी ड्यूटी में लगे हुए हैं। वेतन मिलने में हो रही देरी के बावजूद भी पैरा मेडिकल स्टाफ और डॉक्टर अपना फर्ज बखूबी निभा रहे हैं।

Post A Comment: