स्वर्ण व्यापारी यशपाल  पवार


ऋषिकेश,25 अप्रैल।(दुर्गेश मिश्रा) सोना चांदी और बर्तन के कारोबारियों के लिए अक्षय तृतीया धनतेरस से बड़ा पर माना जाता है लेकिन इस साल नॉक डाउन के कारण तीतर का बाजार सन्नाटा रहेगा। ऋषिकेश में हर साल 80 से एक करोड़ का कारोबार करने वाला बाजार इस बार सुनने के आंकड़े पर रहने के आसार है कल रविवार को  अक्षय तृतीया है लेकिन  हर साल इस  पर्व के दिन गुलजार रहने वाला स्वर्ण कारोबारियों की दुकानों पर ताला लटका हुआ है  स्वर्ण कारोबारियों के लिए यह पर्व खास महत्व रखता है शादी का सीजन शुरू होने से पहले आने वाला यह त्यौहार पीली धातु  के लिए माना जाता है। ऋषिकेश के स्वर्ण व्यापारी यशपाल पंवार कहते हैं कि स्वर्ण कार्रवाई कई तरह से परेशान है एक तो लोग डाउन के कारण अक्षय तृतीया पर बाजार सूना रहेगा। इसका तो अफसोस है ही सोने के लगातार बढ़ते दाम के कारण भी लोग परेशान हैं।  यशपाल पंवार कहते हैं कि बाजार  का ट्रेंड बदल रहा है  उन्होंने बताया कि पिछले साल  अक्षय तृतीया पर 80 लाख से एक करोड़ का व्यापार हुआ था। लेकिन इस बार लॉक डाउन के चलते सोने की खरीदारी शून्य है। लाँक डाउन खुलने के बाद ही खरीदारी हो पाएगी। बताया कि इसका असर अक्टूबर तक रहने की उम्मीद है। ऑटो सेक्टर को क्या बोलते हैं। वहीं दूसरी ओर ऑटोमोबाइल सेक्टर में भी सन्नाटा पसरा पड़ा है अक्षय तृतीया पर्व पर्व पर कई लोग नए वाहन खरीदते हैं।

Post A Comment: