ऋषिकेश,9 अप्रैल। कोरोना वायरस के साथ साथ डेंगू के डंक से भी नगर निगम शहरवासियों को बचाने की जद्दोजहद में जुट गया है। इसके लिए निगम ने दस और फागिंग मशीन मोर्चे पर लगा दी हैं। वृहस्पतिवार की शांम नगर निगम प्रांगण में फागिंग अभियान का महापौर ने शुभारंभ किया। इससे पहले थर्मल स्कैनिंग की शुरुआत भी निगम में की गई।
कोरोना वायरस को लेकर हर तरफ सजगता बरती जा रही है। नगर निगम प्रशासन जहां एक और शहरवासियों को कोरोना के अदृश्य प्रहार से सुरक्षित बचाने के लिए हर आवश्यक कदम उठा रहा है ,वहीं निगम कर्मचारियों के स्वास्थ्य को लेकर भी तमाम मुकम्मल इतंजाम किए जा रहे हैं। वृहस्पतिवार को निगम में थर्मल स्कैनिग मशीन भी आ गई । *महापौर अनिता ममगाई* ने सेनिटाइजेशन, स्वच्छता एवं तमाम आवश्यक सेवाओं के लिए दिनरात जुटे रहने वाले कर्मचारियों के लिए केरोना जांच के लिए थर्मल स्कैनिंग मशीन लगवा दी। गुरुवार को मशीन का महापौर द्वारा शुभारंभ करने के बाद अधिकारियों  और तमाम कर्मचारियों की थर्मल स्कैनिग की गई।इस जांच मेें किसी को संक्रमण नही मिला। महापौर ममगाई ने बताया कि कोरोना की प्रराम्भिक जांच में थर्मल स्कैनिंग मशीन सबसे अधिक कारगर है। निगम में मशीन के लगने के बाद अब निगम में एन्ट्री करने वाले तमाम कर्मचारियों सहित हर किसी के लिए थर्मल स्कैनिंग जांच से गुजरना आवश्यक होगा। उन्होंने बताया कि शहर में सेनिटाइजेशन के लिए दो पालियों में लगातार छिड़काव करने के साथ साथ आज से डेंगू जैसी खतरनाक बीमारी की रोकथाम के लिए भी निगम के शहरी वार्डो के साथ निगम के ग्रामीण क्षेत्रों में फागिंग शुरू करा दी गई है।उन्होंने बताया कि निगम के पास कुल तीन फागिंग मशीनें थी।इस कमी को देखते हुए 10 और नई मशीनें मंगवाई गई थी जिनसे आज से ही कार्य शुरू कर दिया गया है।इस दौरान नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल,  ऐलम दास,
टी एस रमेश रावत,  सफाई निरीक्षक सचिन,धीरेंद्र,संतोष,अभिषेक,गौरव केन्थुला, प्रशांत सहित सरकारी अस्पताल से डॉ एम पी सिंह आदि मोजूद रहे।

Post A Comment: