ऋषिकेश, 26 मार्च (AKA)
। कोरोनावायरस के  संक्रमण के चलते, गढ़वाल के मुख्य द्वार ऋषिकेश में थोक व्यापारियों द्वारा की जा रही, खाद्यान्न सामग्री की कालाबाजारी को लेकर प्रशासन सतर्क हो गया है ।जिसके चलते शुक्रवार की सुबह थोक व्यापारियों के यहाँ खाद्य सुरक्षा विभाग तथा स्थानीय प्रशासन छापेमारी करेगा। यह जानकारी उप जिलाधिकारी प्रेमलाल ने देते हुए बताया कि उन्हें लगातार कोरोनावायरस के चलते किए गए ,लॉक डाउन के दौरान 31 मार्च तक   बाजारों में 7:00 बजे से 10:00 बजे तक खाद्यान्न सामग्री की बिक्री की छूट को देखते हुए , खाद्य सामग्री के दाम बढ़ जाने  की शिकायतें लगातार प्राप्त हो रही हैं ।जिसे देखते हुए प्रशासन ने निर्णय लिया हैै , कि ऐसे थोक विक्रेताओं के यहां शुक्रवार से छापेमारी की जाएगी। जिसमें खाद्य पूर्ति निरीक्षक विजय डोभाल मंडी समिति सचिव सहित संबंधित विभागों को सूचित कर दिया गया है ।कि वह बाजारों में बिकने वाले खाद्यान्न सामग्री की सूची भी व्यापारियों से अपनी दुकानों पर चस्पा करना सुनिश्चित करें ।जिससे कालाबाजारी पर रोक लग सकेगी। उप जिलाधिकारी ने बताया कि मंडी समिति के सचिव को भी निर्देशित किया गया ,कि वह लगातार बढ़ रही फल व सब्जियों के दरों पर भी नजर रखें ।जिससे कालाबाजारी को रोका जा सकेगा ।वहीं खाद्य निरीक्षक विजय डोभाल ने बताया कि ऋषिकेश क्षेत्र में ऋषि गैस एजेंसी पर गैस आपूर्ति में पीछे से गैस की रिफिलिंग ना होने के कारण कुछ रुकावट आई थी। लेकिन जिसकी समस्या का समाधान शीघ्र कर लिया जाएगा । वहीं ऋषि गैस एजेंसी के प्रबंधक राजेश व्यास ने बताया कि उनके यहां 11500 सिलेंडर की आपूर्ति की जाती है ।लेकिन बहादराबाद से गैस की आपूर्ति न होने के कारण उन्हें पूरे महीने में 5616 गैस सिलेंडर प्राप्त हुए हैं ,जिसकी वजह से कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। यदि उन्हें गैस की आपूर्ति नियमित रूप से मिलेगी ,तो किसी भी प्रकार की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा।  

Post A Comment: