(आज का आदित्य )कोरोना वायरस के चलले अभी देश भर लॉकडाउन चल रहा है। जिसके चलते लोग जगह-जगह फंसे हुए है। ऐसे में समय में लोगों के सामने जो सबसे बड़ी दिक्कत आ रहा हैं वह राशन का खत्म होना। इस का सबसे ज्यादा जिन लोगों को सामना करना पड़ रहा है,वह है उत्तराखंड में दूरस्थ क्षेत्रों में रह रहे ग्रामिण। जिनको सबसे ज्यादा चुनौतियों का समान करना पड़ रहा है।
ऐसे समय में सरकार के साथ-साथ कई सामाजिक संगठन भी इन लोगों की मदद के लिए आगे आए है। जिनमें मोहन काला फाउंडेशन अग्रणीय भूमिका निभा रही है। कोरोना महामारी के दौर को देखते हुए हमेशा की तरह मोहन काला फाउंडेशन ने अपना हाथ पहाड़ के इन दूर-दराज के क्षेत्रों में रह रहे ग्रामिणों की मदद के लिए  बढ़ाए है। जिसके तहत समाज सेवी मोहन काला ने  श्रीनगर विधानसभा एवं इसके आस-पास के गांव और बाजारों में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लोगों लगभग 15000 मास्क वितरित किए इसी के साथ कई जरूरतमंद और निर्धन परिवारों तक निःशुल्क राशन पहुंचाया है।
इससे पहले भी मोहन काला फाउंडेशन के कार्यकर्ता श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के दूरस्थ गांव तक मास्क और राशन पहुंचा चुके है।
इस बारे में समाजसेवी मोहन काला ने अपने संदेश में बताया कि इस समय हमारे सामने सबसे बड़ी प्राथमिकता हैं कि हम ग्रामिणों तक मास्क पहुंचाएं ताकि वह संक्रमण से बच सकें। इसी के साथ आज पहाड़ पर कई गांव ऐसे है। जहां बहुंत गरीब लोग निवास करते है,उनके पास जो राशन था वह भी खत्म हो चुका है। लेकिन वह लोगों बजारा तक नहीं पहुंच सकते हैं कि क्योंकि परिवहन व्यवस्था बंद है। इस लिए हमने इन दूरस्थ गांव तक अपने कार्यकर्ताओं को भेजा है। जो कई किलोमीटर पैदल चल कर इन गांव तक पहुंच रहे और जरूरतमंद लोगों को खाद्य सामग्री प्रदान कर रहे है। मोहन काला ने बताया की श्रीनगर विधानसभा में हमने लगभग  300 युवा और उनके परिवारों को जो देहरादून,दिल्ली,अमृतसर,बेैंगलोर और मुम्बई में परेशान थे और भुखमरी की कगार पर पहुंच गए थे। इन लोगों तक हमने राशन पहुंचा दिया है।
आपको बता दें कि इससे पहले भी मोहन काला, मोहन काला फाउंडेशन के तत्ववाधान में कई विवदाओं में उत्तराखंड के जनमानस को सहयोग कर चुके है। इसी के साथ मोहन काला तमाम माध्यमों से लोगों तक संदेश पहुंचा रहे कि इस विपदा के समय में यदि किसी को भी मास्क की ज़रूरत है या जिस किसी को देहरादून, दिल्ली या मुम्बई या अन्य शहरों में कोरोना महामारी में मदद चाहिये वह हमें संपर्क कर सकते है। हम हर संभव उन लोगों तक मदद पहुंचाने की कोशिश करेंगे।
 इस मौके पर मोहन काला फाउंडेशन कार्यकर्ता आयुष मियाँ, सुशील गोदियाल, गोविंद नेगी, प्रकाश गोदियाल, रमेश शर्मा, नरेंद्र नेगी, योगी भण्डारी आदि इस कोरोना बीमारी को दूर भगाने और समाज के पीड़ित वर्ग को सहायता पहुँचाने के लिये साथ दे रहे हैं.

Post A Comment: