40 वर्ष पुराने जमीन आवंटन संबंधी मामले का किया निपटारा

-बच्चे की फीस के लिए डीएम के
 सामने फफक फफक कर रोई महिला


ऋषिकेश,03मार्च ( AKA)। ऋषिकेश में आयोजित तहसील दिवस के दौरान जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने वर्ष 1975 में एक व्यक्ति द्वारा करवाई गई ,नसबंदी के दौरान सरकार की योजना के अंतर्गत भूमि दिए जाने के मामले का समाधान 10 दिन में किए जाने के  निर्देश संबंधित अधिकारियों को दियै।
वही  एक महिला अपने अधिकार को लेकर  जिलाधिकारी के सामने फफक फफक कर रो पड़ी ,जिसे जिलाधिकारी भी इमोशनल हो गए , तहसील दिवस में 135 से अधिक मामले दर्ज किए गए।उल्लेखनीय है ,कि उत्तराखंड सरकार द्वारा जनता की समस्याओं का मौके पर  समाधान किये जाने के लिए आयोजित किए जाने वाले प्रत्येक माह के पहले मंगलवार को तहसील दिवस के दौरान जिलाधकारी देहरादून ने ऋषिकेश में लोगों की जन समस्याओं को सुना जिसमें 45 वर्षों से कुंवर सिंह रौथाण द्वारा वर्ष 1975 में नसबंदी अभियान के दौरान  अपनी नसबंदी करवाई थी  जिसे सरकार की ओर से  भूमि आवंटित किए जाने का आश्वासन दिया गया था । लेकिन उसे अभी तक जमीन उपलब्ध नहीं हो पाई थी।  जिसे लेकर उनके द्वारा सभी से  तमाम अधिकारियों  तक अपनी आवाज पहुंचाई गई, लेकिन उसके बाद भी अभी तक जमीन का आवंटन न किए जाने के मामले का 10 दिन के अंदर समाधान किए जाने का आश्वासन देते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया । नगर निगम पार्षद राकेश सिंह ने तहसील चौक से रिलायंस ऑफिस प्रगति विहार तक नाली तथा सड़क के निर्माण के साथ अन्य समस्याओं का समाधान किए जाने की मांग की। वही तहसील दिवस में उस समय हंगामा हो गया जब गुमानीवाला का ग्राम प्रधान जयेंद्र सिंह रावत ने स्थानीय विधायक के खिलाफ दी शिकायत की चिट्ठी गायब हो गई, रावत का आरोप  था ,कि विधायक द्वारा बनवाई जा रही ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों में बड़े स्तर पर घोटाला कराया गया है जिसकी जांच की जानी चाहिए,
वही तहसील दिवस में उस समय एक महिला जिलाधिकारी के सामने फफक फफक कर रो पड़ी जब अपने बच्चे की फीस के लिए गुहार लगाने आई थी ।जिस पर जिलाधिकारी भी इमोशनल हो गए ,और उन्होंने अपने पास से फीस दिए जाने का आश्वासन दिया
तहसील दिवस में मुख्य विकास अधिकारी नितिका खंडेलवाल ,डीएफओ देहरादून राजीव धीमान, एसडीएम ऋषिकेश प्रेमलाल ,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मीनाक्षी जोशी, पुलिस क्षेत्राधिकारी वीरेंद्र सिंह रावत ,ऋषिकेश तहसीलदार रेखा आर्य, विकास अधिकारी प्रदीप पांडे , अमित रमोला अधिशासी अभियंता  पेयजल, ऋषिकेश वन रेंज अधिकारी  आरपीएस आर पी एस नेगी, अधिशासी अभियंता विद्युत खंड डीपी सिंह, विकास के अलावा सभी विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे ।

Post A Comment: