अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव का दूसरा दिन

ऋषिकेश,2 मार्च।
पर्यटन विभाग विभाग और जीएमवीएन के संयुक्त तत्वाधान में अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव के दूसरे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि योग एक सूत्र में जोड़ता है। योग शांति का संदेश देता हे। इसके प्रचार प्रसार को बढ़ावा देने की जरूरत है।
सोमवार को जीएमवीएन के गंगा रिसोर्ट में सात दिवसीय अंतराष्ट्रीय योग महोत्सव का शुभारंभ मुख्यमंत्री त्रिवेद्र सिंह रावत, पर्यटन मंत्री सतपाल, कृषि मंत्री सुबोध उनियाल और ऑर्ट लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर ने किया। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि योग देश दुनिया का आर्कषण का केंद्र है। यह लोगों को एक सूत्र में जोड़ने का काम रहा है। साथ ही शांति संदेश भी दे रहा है। इसके लिए आगे भी काम करने की जरूरत है। आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविंशकर ने कहा कि योग शरीर को स्वस्थ्य रखने के साथ मन की शांति देता है। योग करने से मन एकाग्र होता है। लिहाजा योग को दैनिक जीवन में सभी को अपनाना चाहिए। रविशंकर ने कहा  कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम पांच पेड़ अवश्य लगाना चाहिए। उन्होंने साधकों खूश रहने मूल मंत्र भी बताए।
पर्यटन मंत्री ने कहा कि महर्षि महेश योगी ने योग की पहचान दिलाई है। देवभूमि योग के लिए विख्यात है। योग साधना के मन विकृतियों को दूर किया जा सकता है।
मौके पर डीएम टिहरी डा.वीषणमुगम, एसएसपी टिहरी डा‘ योगेंद्र सिंह रावत, पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर,जीएमवीएन की एमडी ईवा आशीष श्रीवास्तव, जीएम जीतेंद्र कुमार, वरिष्ठ प्रबंधक डीएस नेगी, प्रबंधक सुर्दशन खत्री, भारत भूषण कुकरेती, विश्वनाथ बेंजवाल, रविंद्र नेगी आदि मौजूद थे।

Post A Comment: