ऋषिकेश,0 9 मार्च (AKA)। उत्तराखंड में मानवतावादी क्रांति दल आगामी 2022 में होने वाले उत्तराखंड के विधानसभा चुनाव में  33 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगा। यह ऐलान सोमवार को ऋषिकेश में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान मानवतावादी क्रांति दल के प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह राणा ने करते हुए कहा कि भाजपा व कांग्रेस गैरसैंण को स्थाई राजधानी के रूप में नहीं देखना चाहते, जो कि अपने सुख ,सुविधाओं के लिए देहरादून को ही राजधानी बनाए रखना चाहते हैं। राणा ने कहां  कि उत्तराखंड की समस्याओं को लेकर मानवतावादी क्रांति दल संघर्ष करेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा की राज्य में पूर्ण बहुमत की सरकार है ।उसके बावजूद भी राजधानी नहीं बना रही है। जिसने ग्रीष्मकालीन राजधानी का सिगुफा छोड़कर जनता को ठगने का कार्य किया है। उनका आरोप था, कि गैैैरसैण को पिकनिक स्पॉट बना दिया गया है। जो कि गलत है, उनका कहना था ,की गैरसैण को स्थाई राजधानी तथा प्रतापनगर को जिला बनाया जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका भी दायर की जा रही है। उनका कहना था कि गैरसैंण स्थाई राजधानी बनाए जाने के लिए देहरादून आईडीपीएल, हरिद्वार, कोटद्वार मैं कार्यालय खोले जाएं ।जिसका लाभ सभी लोगों को मिलेगा ।उन्होंने कहा कि उनके द्वारा 25000 सक्रिय सदस्य बनाने गए हैं। राणा ने अपनी प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा करते हुए कहा कि डीके जोशी को मानवतावादी क्रांति दल के प्रदेश उपाध्यक्ष,  यशोदा प्रसाद चमोली देहरादून को जिलाध्यक्ष, राजकुमार लक्सर को किसान मोर्चेे  के प्रदेश अध्यक्ष, संदीप कौशल हरिद्वार को परिवहन टूरिज्म प्रकोष्ठ के अध्यक्ष, भावना कौशल को प्रदेश की महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष ,सुभाष त्यागी को विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष ,सेवाराम को अनुसूचित जाति के प्रदेश अध्यक्ष ,प्रमोद कुमार दीक्षित को देहरादून नगर निगम के अध्यक्ष ,आर.पी डोभाल को मानवता वादी क्रांति दल के महासचिव  बनाया गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक उनका दल हरियाणा, उत्तर प्रदेश ,मध्य प्रदेश में बंगाल मे  राजनीतिक दल के रूप से कार्य कर रहा है। जिसने इन राज्यों में चुनाव भी आ लडेे है। उत्तराखंड में भी 31 सीटों पर  चुनाव लड़े जाने का निर्णय दल ने लिया है ।

Post A Comment: