देहरादून। उत्तरकाशी से सोमवार को चिन्यालीसौड़ की ओर जा रही कार धरासू-नालूपानी के बीच गंगा भागीरथी में गिरने से हादसे का शिकार हो गई थी। हादसे में पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक बच्ची ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं, एक छह साल का मासूम लापता है। उसकी तलाश में प्रशासन की टीम ने  आज सुबह फिर से सर्च अभियान शुरू कर दिया है।
बता दें कि सोमवार शाम चिन्यालीसौड़ स्थित अनोल गांव जा रही एक स्विफ्ट कार धरासू-नालूपानी क्षेत्र के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी अनियंत्रित कार पैरापिट तोड़ते हुए करीब 400 मीटर नीचे गंगा भागीरथी में जा गिरी।
ग्रामीणों से हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस, एसडीआरएफ, अग्निशमन और स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू शुरू कर दिया। एक बच्चे और दो महिलाओं समेत पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो चुकी थी।
जबकि एक बच्ची गंभीर रूप से घायल मिली। रेस्क्यू टीमों ने तुरंत उसे 108 एंबुलेंस की मदद से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र डुंडा पहुंचाया, लेकिन कुछ देर में उसकी भी मौत हो गई।
जबकि हादसे के दौरान लापता हुए एक मासूम का पता नहीं चल सका है। उसकी तलाश में अभियान चलाया जा रहा है। वहीं, हादसे से पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है। हादसे में मृत आरती ने 14 फरवरी को जिला अस्पताल में अपना ऑपरेशन कराया था। तब से वह उत्तरकाशी में ही अपने किसी रिश्तेदार के यहां रह रही थीं। सोमवार को वह अपने जीजा बृजपाल और बहन रोशनी देवी के साथ चिन्यालीसौड़ ब्लॉक स्थित अपने मायके अनोल गांव जा रही थी।  आरती का ससुराल हरियाणा में है और उनके पति रमन वहीं नौकरी करते हैं। वहीं, वाहन चालक बुद्धि प्रकाश रिश्ते में आरती के मौसा थे। वे चिन्यालीसौड़ में ही विद्युत विभाग में कार्यरत थे।

Post A Comment: