ऋषिकेश,0 2 फरवरी( .AKA))। हाईकोर्ट के  निर्देश पर  पशुओं की भूमि पर  शहर मैं घूमने वाली  आवारा 57 गायों को  सर्व जीवी  समिति से  लेकर  पशुपालन विभाग को देखरेख के लिए दिए जाने के बाद  31 गायों के गायब हो जाने पर  गो भक्तों में  रोष उत्पन्न हो गया । जिसे लेकर  विधानसभा अध्यक्ष ने  संबंधित अधिकारियों के  खिलाफ राज्य की पशुपालन मंत्री से जांच करवाकर संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की मांग की है। रविवार को उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचंद अग्रवाल ने  पशुलोक ऋषिकेश पहुंचकर पशुलोक की डेयरी का स्थलीय निरीक्षण किया।इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने पूर्व में हाईकोर्ट के निर्देशानुसार तिकोनिया भूमि, वीरपुर खुर्द से पशुपालन विभाग के पास आई हुई ,57 गायों के बारे में जानकारी ली।निरीक्षण के दौरान खामियां पाए जाने पर  अग्रवाल ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई।
ज्ञात रहे कि हाईकोर्ट के आदेशा अनुसार शहर में लावारिस रूप से घूमने वाली गायों को सर्वजीवी सेवा समिति द्वारा तिकोनिया भूमि,वीरपुर खुर्द  पर गोशाला मे रखी गई 57 गायों को पशुपालन विभाग, पशुलोक मैं सेवा हेतु रखा गया है, इन सभी गायों की सेवा की की जिम्मेवारी पशुपालन विभाग, पशुलोक को दी गई थी। जिन के गायब होने की सूचना पर
विधानसभा अध्यक्ष ने  पशुलोक पहुंचकर, सभी 57 गायों की जानकारी प्राप्त की मौके पर डेयरी में 26 गायें ही पाई गई।विधानसभा अध्यक्ष द्वारा इस संबंध में जानकारी लेने पर पशुलोक के परियोजना निदेशक द्वारा उन्हें जानकारी ना होने का हवाला दिया गया।इस  गैरजिम्मेदाराना रवैये एवं लापरवाही पर विधानसभाध्यक्ष ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगायी।  अग्रवाल ने  कहा कि इस प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि तिकोनिया भूमि,वीरभद्र में गौशाला में रखी हुई 57 गायों को हाईकोर्ट के निर्देशानुसार पशुधन को  पशुपालन विभाग को सौंपा गया था। पशुपालन विभाग को 57 गायों की सभी प्रकार की सुविधाएं एवं डॉक्टरी जांच की जिम्मेवारी दी गई थी। अग्रवाल ने कहा कि यह चिंता का विषय है, कि मौके पर 57 गायों में से केवल 26 गायें ही पाई गई।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने पशुपालन मंत्री  रेखा आर्य से दूरभाष पर संपर्क कर मामले का संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई करने की बात कही।इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष  ने वीरपुर खुर्द में ग्रामीणों को रास्ते की समस्या को लेकर हो रही ,असुविधा का स्थलीय निरीक्षण भी किया ,एवं क्षेत्रवासियों को समस्या का समाधान निकालने का आश्वासन भी दिया।  अग्रवाल ने मौक़े पर ही उपस्थित पशुलोक के परियोजना निदेशक को समस्या के समाधान के निर्देश भी दिए।इस अवसर पर पशुलोक के परियोजना निदेशक राजेंद्र कुमार, विभागीय अधिकारी सुरेश बाजपेई, डॉ प्रसून दुबे, डॉक्टर उत्तम कुमार, तहसीलदार रेखा आर्य,  नगर निगम पार्षद लव कम्बोज  सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।

Post A Comment: