ऋषिकेश, 3 जनवरी। नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती अब रात्रि में भी सफाई व्यवस्था अमल में लाएगी। नगर पालिका ने शहर को स्वच्छ बनाने के लिए वृहद स्तर पर कार्य योजना तैयार की है।
शुक्रवार को मुनिकीरेती स्थित होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में नगर पालिका अध्यक्ष मुनिकीरेती रोशन रतूड़ी व अधिशासी अधिकारी पीडी भट्ट ने नगर पालिका परिषद के स्वच्छता मिशन की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती ने ओडीएफ प्लस की श्रेणी में स्थान पाया है। नगरपालिका के लिए यह गौरव की बात है। उन्होंने बताया कि हाल में ही स्वच्छ भारत मिशन के दूसरी तिमाही के सर्वे में नगर पालिका परिषद मुनि की रेती ने पच्चीस हजार से कम की आबादी वाले शहरों में पहले पायदान पर स्थान बनाया है। उन्होंने कहा कि नगर पालिका परिषद मुनिकीरेती स्वच्छता की दिशा में लगातार आगे बढ़कर काम कर रही है। नगर पालिका ने सभी 11 वार्डों में डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन का कार्य शुरू किया है। इसके साथ ही सभी वार्डों में सोर्स सेग्रीगेशन का कार्य भी शुरू किया गया है। नगर पालिका परिषद का लक्ष्य अब नगर को कूड़ा दान मुक्त शहर बनाना है। उन्होंने बताया कि नगरपालिका ने नगर क्षेत्र से निकलने वाले ठोस जैविक अपशिष्ट से खाद तैयार करना शुरू किया है, जिससे निकाय को अब तक 74 हजार रुपये की आय प्राप्त हुई है। जबकि यूज़र चार्ज से 10 लाख 36 हजार 154 रुपये की आय प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत स्वछता कार्यों के लिए 3.67 करोड़ की डीपीआर तैयार की है। जिसे शासन की स्वीकृति प्राप्त होनी शेष है। इस अवसर पर सभासद मीनू गोदियाल, सुभाष चौहान, बिल्लू चौहान, धर्म सिंह, मनोज बिष्ट, बबीता रमोला, गजेंद्र सजवान, वीरेंद्र चौहान, सुषमा नेगी, विनोद सकलानी, वंदना ठलवाल, भूपेंद्र कुमार, दीपक कुमार, अजय रमोला, राजेंद्र तलवार, कौशल चौहान, रोहित गोदियाल आदि उपस्थित थे।

Post A Comment: