ऋषिकेश,02 जनवरी (AKA)। मोदी  योगा रिट्रीट के संस्थापक वी. के .मोदी के जन्मदिन के अवसर पर त्रिवेणी घाट पर आयोजित ग्लोबल हिंदू सॉलि़डेट्री कार्यक्रम के दौरान सूफी गायक कैलाश खेर ने त्रिवेणी संगम पर समा बांध दिया । गुरुवार को केवल घाट पर आयोजित मोदी के जन्मदिन के अवसर पर सूफी गायक कैलाश खेर  द्वारा प्रस्तुत किए गए अपने गीतों से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया इस अवसर पर बीके मोदी ने कहा कि ऋषिकेश दुनिया के देशों के लिए जा आध्यात्मिक नगरी है वही  अब योग की राजधानी  के रूप में जाना जाता है । और सजाने तथा सवारने की की आवश्यकता है । मोदी ने कहा आस्था पर को उन्होंने आस्था पथ को बहुत ही सुंदर तरीके से सजाने व संवारने का संकल्प लिया है उनका कहना था कि भारत को हिंदू राष्ट्र बनाना है। जिसके लिए सभी हिंदू एकजुट हैं ।उन्होंने कहा दुनिया के देशों में रहने वाले लोग भी हिंदू ही हैं ।लेकिन वह विभिन्न धर्मों में विभाजित हो गए हैं जिन्हें  एकजुट किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने जोड़ने के लिए शुरू हो चुका है । जिसके लिए हवन का आयोजन शुरू हो चुका है ।जिसमें सभी हिंदुओं को आहुति  दिए जाने की आवश्यकता है । उन्होंने कहा अब पैदा होने वाली नई जनरेशन दुनिया को एक संदेश देने का कार्य करेगी। यह दुनिया को नई दिशा भी देगी । क्योंकि अपनी क्षमता से दुनिया को मार्गदर्शन देगी । उनका कहना था कि  हरिद्वार मे आयोजित होने वाला कुम्भ  हरिद्वार का नहीं अब ऋषिकेश  का होगा। जिसमें विचार विमर्श किया जाएगा । उन्होंने कहा कि ऋषिकेश के आस्था पथ को भी नया रूप दिया जाएगा । उन्होंने कहा आज दुनिया  मे  50000 मंदिर बने   है।जिन्हें किसी सरकार ने नहीं लोगों के सहयोग से बनाया गया है। इस अवसर पर  विश्व हिन्दू परिषद के राष्ट्रीय अदेहरादून केे जिलाधिकारी रविशंकर पुलिस के डीआईजी अरुण मोहन जोशी, भानपुरा पीठ के शंकराचार्य स्वामी दिव्यानंद तीर्थ ,परमार्थ निकेतन के पर माध्यम स्वामी चिदानंद मुनि संत सहित मोदी के परिवार के सभी लोग उपस्थित थे ।

Post A Comment: