देहरादून, 21जनवरी। भले ही अभी 2022 का चुनाव दूर सही लेकिन राजनीतिक दलों द्वारा अपनी-अपनी स्थिति को मजबूत बनाने के लिए काम करना शुरू कर दिया हैै। भाजपा के कई नेता पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के सम्पर्क में है। भाजपा नेताओं की कांगे्रेस के दिग्गज नेताओं से करीबी और मेलजोल के कई मायने निकाले जा रहे है।
भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व पुरोला विधायक मालचन्द्र हरीश रावत से मुलाकात करने के लिए उनके घर पहुंच गये। ऐसी स्थिति में किसी का भी चैकंना स्वाभाविक ही है वहीं उत्तरकाशी से पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जशोदा राणा ने भी हरीश रावत से मुलाकात की है। भाजपा के इन नेताओं की इन मुलाकातों को सामान्य या कोई औपचारिक मुलाकातें नहीं माना जा रहा है। दोनो ही भाजपा नेताओं के साथ पूर्व मुख्यमंत्री हरीश की बंद कमरे में लम्बी बातचीत हुई है। भले ही एंकात की इन मुलाकातों का कोई ब्यौरा किसी के पास नहीं है लेकिन इसके राजनीतिक मतलब क्या हो सकते है यह सभी राजनीति के जानकार समझ सकते है
कांग्रेस नेता हरीश रावत की दूर दृष्टि तथा राजनीतिक कौशल पर कोई संदेह नहंीं किया जा सकता है। इसलिए यह साफ है कि वह पूरे प्रदेश में घूम घूम कर 2022 के लिए कांग्रेस की जमीन तैयार करने में बहुत पहले से जुट चुके है। कांग्रेस जिन क्षेत्रों में मजबूत है लेकिन उसके पास कोई मजबूत चेहरा नहीं है उसकी तलाश भी कांग्रेस ने अभी से शुरू कर दी है। इन मुलाकातों को राजनीतिक लोग कई मायने निकालने में जुटे हुए है।

Post A Comment: