चमोली। जनपद चमोली में भी पिछले 4 दिनों से भारी बर्फबारी हो रही थी, लेकिन रविवार को धूप निकलने से मौसम साफ हो गया। जिसकी वजह से कड़ाके की ठंड झेल रहे लोगों को कुछ राहत मिली है। वहीं, बर्फबारी की वजह से गांवों के घर बर्फ से ढक गए हैं। जिससे क्षेत्र का नजारा बड़ा अद्भूत दिख रहा है। चमोली में तमाम ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फ की सफेद चादर बिछ चुकी है। हर तरफ बर्फ ही बर्फ के नजारे इस समय चमोली के ऊंचाई वाली जगहों पर दिखाई दे रहे हैं। हालांकि, चमोली के लोगों और पर्यटकों को बर्फबारी और बारिश रुकने से कुछ राहत जरूर मिल गयी लेकिन, अभी सड़कों पर जमे पाला लोगों के लिए मुसीबत बना हुआ है। जोशीमठ में 2 से 4 इंच तक बर्फबारी भी हुई है। जिससे पानी पाइपलाइनों के अंदर ही जम गया है। अब जोशीमठ सहित अन्य ऊंचाई वाले गांवों के रास्तों पर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। हर तरफ सड़कों पर बर्फ होने से लोगों की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। चमोली प्रभारी जिलाधिकारी मोहन सिंह बर्निया ने बताया कि बीते 4 दिनों हुई बर्फबारी से अभी तक चमोली के 56 गांव प्रभावित और साथ ही करीब 8 मोटरमार्ग बाधित हुए हैं। जिनको खोलने के लिए ऑलवेदर सड़क निर्माण कर रही कंपनियों की मशीनों को काम में लगाया गया है। जोशीमठ-औली मोटरमार्ग को खोले जाने का कार्य जारी है। संभावना जताई जा रही है कि आज शाम तक मार्ग खुल जाएगा।

Post A Comment: