अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के तत्वावधान में बिजनौर उत्तरप्रदेश में वृहद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें एम्स के चिकित्सकों ने 400 से अधिक मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया।                                   रविवार को फुलवारी लौन बैंकट हॉल, चंदक बिजनौर में लोकराज फाउंडेशन की ओर से एम्स ऋषिकेश के सहयोग से राजा महेंद्र प्रताप की 133 वीं जयंती के उपलक्ष्य में स्वास्थ्य शिविर आयोजित किया गया। जिसमें एम्स ऋषिकेश, एम्स दिल्ली व बिजनौर के वरिष्ठ चिकित्सकों ने प्रतिभाग किया गया। मुख्य अतिथि एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में आयोजित वृहद स्वास्थ्य शिविर में चिकित्सकों की टीम ने आसपास के समीपवर्ती गांवों से आए 400 से अधिक मरीजों ने स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने कहा कि देश के उत्थान के लिए महिलाओं का शिक्षित होना अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि यदि देश की विकास दर को बढ़ाना है तो इसके लिए महिलाओं को अधिक से अधिक शिक्षित करना होगा। निदेशक प्रो.रवि कांत ने कहा कि शिक्षित महिलाओं से ही देश का सार्थक विकास हो सकता है। उन्होंने बताया कि शिक्षित महिलाओं से ही स्वस्थ देश व समाज का निर्माण हो सकता है। शिविर में संयोजक चौधरी रावेंद्र सिंह, फाउंडेशन के अध्यक्ष डा. एसके काकरान, डा. बीएल चौधरी, डा. सॉविक, डा.सनी चौधरी, डा.तुषार राठी, डा.संदीप, डा. भियांराम,डा.सुधीर राठी, डा.रघु, डा. निखिल, डा.विनोद, डा.हृदेश, डा.नरेंद्र, डा.राजेश कुमार, डा.प्रशांत जैन,डा.राघवेंद्र,डा.देबाशीष, डा.सोफिया, डा.संदीप,डा. अमित कुमार सैनी, डा. रमेश प्रताप, डा. श्रीनिवास, त्रिलोक सिंह, राम सिंह, प्रकाश आदि ने सहयोग किया।

Post A Comment: