ऋषिकेश, 30 नवंबर।अखिल भारतीय संत समिति के महासचिव महायोगी स्वामी अखंडानंद  ने राज्य सरकार द्वारा बद्री, केदार, गंगोत्री, यमनोत्री को न्यास बनाने के सम्बन्ध में  कहा की सरकार का दायित्व है !कि सनातन धर्म के मूल्यों की रक्षा करते हुए आदि जगद्गुरु शंकराचार्य जी द्वारा सनातन धर्म की रक्षा एवं उनके मान बिन्दु को ध्यान में रखते हुए न्यास में आये धन का उपयोग केवल सनातन धर्म के कार्यो में लगे । जिसके लिए नेता अभिनेता नहीं बल्कि धर्म के रक्षक साधु संतो एवं चारो धाम के तीर्थ पुरोहितों की भावना को  भी ध्यान रखते हुए राज्य सरकार को चाहिए कि सामजस्य स्थापित करते हुए धर्म परायण होकर निर्णय ले !

Post A Comment: