देहरादून। दून के परेड मैदान में आयोजित उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस समारेाह में मुख्‍य अतिथि के रूप में शामिल हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि विविधता में एकता केवल भारत में है। इसे संस्कृति जोड़ती है। संस्कृति में उदारता, सर्वधर्म समभाव केवल भारत में ही है। केवल भारत में इस्लाम के 72 फिरके मिलते हैं। किसी और देश में इतने फिरके नहीं मिलते। गुलामी के दौर में रूढ़ीवादी व सांस्कृतिक मूल्य गिरे, सकारात्मक बदलाव युवा ला सकते हैं।
इससे पहले केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने दीप प्रज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया। उत्तराखंड की सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से समारोह की शुरुआत हुई। इसमें पंजाब, राजस्थान, मणिपुर, ओड़िशा और बंगाल आदि राज्यों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी गईं।
समारोह में मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने संबोधन में राज्य वर्षगांठ पर प्रदेशवासियों शुभकामनाएं दी। साथ ही आंदोलनकारियों व शहीदों को श्रद्धांजलि दी। सीएम ने कहा कि 19 साल में राज्‍य की कैपिटल इनकम बढ़ी है। 33 राज्य व केंद्र शासित प्रदेशों के बच्चे यहां शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। रैबार से स्थापना दिवस कार्यक्रम की शुरूआत की गई। कहा, कोशिश यह के प्रदेश कैसे सर्वांगीण विकास करे। इस दौरान सीएम ने कई घोषणाएं की।
इस के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरा उत्तराखंड से गहरा नाता है। राज्य गठन के दौरान मैंने कई दस्तावेजों में हस्ताक्षर किए। कहा कि उत्तराखंड देवभूमि है, यहां हर गांव से लोग सेना में हैं। यहां चारधाम और गांव-गांव सैन्य धाम है। अब उत्तराखंड विद्याधाम भी है। देशभर से बच्चे यहां शिक्षा ग्रहण करने आ रहे हैं।उन्‍होंने कहा कि दुनिया में देश कई हैं, लेकिन राष्ट्र केवल भारत है। यहां अलग-अलग कल्चर एक दूसरे को जोड़ते हैं। विविधता में एकता केवल भारत में है। इसे संस्कृति जोड़ती है।
उन्‍होंने कहा कि आज भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। लक्ष्य भारत को 5 ट्रिलियन के इकोनॉमी बनाना है। यह काम नौजवान ही कर सकता है। स्टार्टअप इंडिया में नौजवान एक से एक काम कर रहे हैं। अखबार बेचने वाला राष्ट्रपति बन अखबार की सुर्खियां बन सकता है। उन्‍होंने कहा कि अब समय के साथ चलने की जररूत है। रक्षा मंत्री ने कहा, भारत का अतीत बहुत गौरवशाली रहा है, जिस पर गर्व किया जा सकता है।
उत्तराखंड निश्चित रूप से तेजी से प्रगति करेगा। यह लक्ष्य तय करें कि यहां की प्रति व्यक्ति आय पूरे देश में सबसे अधिक हो। राज्य ने शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किए हैं।  इस के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेरा उत्तराखंड से गहरा नाता है। राज्य गठन के दौरान मैंने कई दस्तावेजों में हस्ताक्षर किए। कहा कि उत्तराखंड देवभूमि है, यहां हर गांव से लोग सेना में हैं। यहां चारधाम और गांव-गांव सैन्य धाम है। अब उत्तराखंड विद्याधाम भी है। देशभर से बच्चे यहां शिक्षा ग्रहण करने आ रहे हैं।उन्‍होंने कहा कि दुनिया में देश कई हैं, लेकिन राष्ट्र केवल भारत है। यहां अलग-अलग कल्चर एक दूसरे को जोड़ते हैं। विविधता में एकता केवल भारत में है। इसे संस्कृति जोड़ती है।उन्‍होंने कहा कि आज भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। लक्ष्य भारत को 5 ट्रिलियन के इकोनॉमी बनाना है। यह काम नौजवान ही कर सकता है। स्टार्टअप इंडिया में नौजवान एक से एक काम कर रहे हैं। अखबार बेचने वाला राष्ट्रपति बन अखबार की सुर्खियां बन सकता है। उन्‍होंने कहा कि अब समय के साथ चलने की जररूत है। रक्षा मंत्री ने कहा, भारत का अतीत बहुत गौरवशाली रहा है, जिस पर गर्व किया जा सकता है।उत्तराखंड निश्चित रूप से तेजी से प्रगति करेगा। यह लक्ष्य तय करें कि यहां की प्रति व्यक्ति आय पूरे देश में सबसे अधिक हो। राज्य ने शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार के क्षेत्र में सराहनीय कार्य किए हैं।

Post A Comment: