अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में ईएनटी विभाग की ओर से अंतरराष्ट्रीय इमेज गाइडेड साइनिस सर्जरी की कार्यशाला का आयोजन आयोजन किया गया। जिसमें इमेज गाइडिड ( नेविगेशन) की सहायता से जटिल साइनस व स्कलबेस के तीन जटिल ऑपरेशन का लाइव प्रसारण किया गया। कार्यशाला में देश-विदेश से जुटे विशेषज्ञों ने सामुहिक चर्चा व व्याख्यानमाला प्रस्तुत कर इस जटिल सर्जरी के बारे में बताया।                                                                                                                                                                                                                                                                                                         एम्स में आयोजित अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला का बतौर मुख्य अतिथि निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने विधिवत शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि एम्स ऋषिकेश शीघ्र ही नेविगेशन की सुविधा (साइनस व स्कल बेस के ऑपरेशनों) के लिए प्रयासरत है, लिहाजा जल्द ही यह सुविधा उत्तराखंड व आसपास के राज्यों के मरीजों को उपलब्ध कराई जाएगी।                                                                                                                          निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि एम्स संस्थान में जटिल व गंभीर समस्याओं से ग्रस्त मरीजों को उपचार में प्राथमिकता देगा व जो उपचार अन्य सरकारी अस्पतालों में संभव है, ऐसे मरीजों को उनमें रेफर करेगा।                                                                                                                                                                                                                            कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए आयोजन समिति के अध्यक्ष व ईएनटी विभागाध्यक्ष प्रो. सौरभ वार्ष्णेय ने बताया कि पद्मश्री प्रो. रवि कांत के संस्थान के निदेशक का कार्यभार संभालने के बाद से एम्स ऋषिकेश उत्तरोत्तर प्रगति के पथ पर अग्रसर है, जिसमें नाक,कान,गला विभाग भी शामिल है। उन्होंने बताया ​कि ईएनटी विभाग पूर्व की भांति आगे भी निरंतर नई तकनीकियों पर राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीयस्तर की संगोष्ठी व कार्यशालाओं का सतत आयोजन करता रहेगा। जिससे विद्यार्थियों व मरीजों को समुचित लाभ मिल सके।                                                                                                                                         कार्यशाला में बतौर अतिथि व्याख्याता एम्स दिल्ली के डा. आलोक ठक्कर, सर गंगाराम हाॅस्पिटल दिल्ली के डा. देवेंद्र राय, यूनिवर्सिटी ऑफ स्लोवेनिया के अंतरराष्ट्रीय व्याख्याता बोस्जान लानिसनिक ने विभिन्न विषयों पर व्याख्यान दिया।                                                                                                                                                                     कार्यशाला में देश व विदेश के विभिन्न मेडिकल संस्थानों से 75 प्रतिभागी सम्मिलित हुए, इनमें एसजीपीजीआई लखनऊ से डा. अमित केसरी, मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज दिल्ली से डा. जेसी पासी, लेडी हार्डिग मेडिकल कॉलेज के डा. गौतम वीर सिंह व डा. अरुण लोके चक्रवर्ती, एम्स गोरखपुर से डा. रूचिका, अपोला हास्पिटल अहमदाबाद के डा. राजेश विश्वकर्मा, अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के डा. एससी शर्मा, एसआरएमएस बरेली के डा. रोहित शर्मा, मेरठ मेडिकल कॉलेज के डा. कपिल आदि शामिल हैं।                                                                                                                                    कार्यशाला के सह आयोजक डा. अमित कुमार त्यागी व डा. अभिषेक भारद्वाज रहे। आयोजन में डा. मधुप्रिया, डा. मनु मल्होत्रा आदि ने भी सहयोग किया।

Post A Comment: