ऋषिकेश, 01नवम्बर( AKA)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की पत्नी जशोदाबेन ऋषिकेश में 4 नवंबर को अपनी जनकल्याणकारी अध्यात्म यात्रा के दौरान शीशम झाड़ी स्थित श्री श्री रविशंकर के आश्रम में मेडिटेशन करने के साथ आयुष यज्ञ में शामिल होंगी, उसके पश्चात वह दयानंद आश्रम मैं स्थित ब्रह्मलीन स्वामी  दयानंद जी की मूर्ति पर अपने श्रद्धासुमन अर्पित करेंगी। यह जानकारी शुक्रवार को रेलवे रोड स्थित एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान जशोदाबेन के यात्रा संयोजक सत्यप्रकाश रेेशु तथा उनके निजी सचिव ओमप्रकाश नरवरिया ने देते हुए बताया कि जशोदाबेन 4 नवंबर को हरिद्वार रेलवे स्टेशन पहुंचेगी ।जहां से वह कड़ी सुरक्षा के बीच ऋषिकेश श्री श्री रविशंकर के आश्रम में स्वामी सत्य चेतन्य के नेतृत्व में आयोजित योग ध्यान हवन यज्ञ मेडिटेशन में सभी भक्तों के साथ प्रतिभाग करेंंगी ।इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश के विकास में युवाओं की महत्वपूर्ण भूमिका विचार विमर्श करना भी है। पत्रकार वार्ता में बताया गया कि 4 नवंबर को ही जशोदाबेन परमार्थ निकेतन स्थित स्वामी चिदानंद मुनि के यहां स्वच्छ गंगा अभियान को आगे बढ़ाने के लिए मां गंगा की संगीत में आरती में भी सहवाग करेंगी। उसके बाद  रात्री विश्राम   स्वामी दयानंद आश्रम में होगा ।उन्होंने बताया कि जशोदाबेन की आध्यात्मिक यात्रा के दौरान किसी भी व्यक्ति को किसी पार्टी का  झंडा लगाकर काफिले में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी ।और ना ही वह किसी राजनीतिक व्यक्ति से मंच साझा करेंगी । पत्रकार वार्ता में नगर की महापौर अनीता ममगांंई ,दायित्व धारी राज्यमंत्री भगतराम कोठारी ,आर्ट ऑफ लिविंग के स्वामी  चेतन्य, विवि गुलाटी ,अरविंद पांडे ,निशा वर्मा भी उपस्थित थे ।

Post A Comment: