पौडी। उत्तराखंड के पौड़ी में एक बेटी के जन्मदिन पर उसके सिर से मां का साया उठ गया। आज सुबह घास लेने गई महिला मीना नौटियाल पर गुलदार ने हमला कर दिया और उसे खींच कर जंगल में ले गया।
जब गांव वालों ने खोजबीन की तो महिला का शव जंगल में कुछ दूर ही बरामद कर लिया गया। खंडाह गांव में हुई गुलदार के हमले की इस घटना के बाद लोगों में गुस्सा है। वहीं महिला की मौत होने से परिजन शोक ग्रस्त हैं। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम शव को निकाल रही है। मृतक मीना पत्नी हरीश, निवासी लोवर भक्तियाना, उम्र 40 साल मूलरूप से गिरीगांव की है।
महिला शव जंगल में बेहद दुर्गम क्षेत्र में मिला है। जहां से शव निकालने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बताया गया कि घटना बुधवार सुबह लगभग सात बजे की है। मां की मौत की खबर सुनकर बेटी तान्या को रो-रोकर बुरा हाल हुआ। आज उसका जन्मदिन था और मां उससे घर वापस लौटने पर पूड़ी-पकौड़ी बनाने का वाद कर घास लेने गई थी।
रोजाना की तरह मीना नौटियाल तीन महिलाओं के साथ जंगल में घास लेने गयी थी। मीना गाय का दूध बेचकर परिवार का गुजारा करती थी। बुधवार सुबह तीनों घास काट रही थीं। तभी गुलदार ने उन पर हमला कर दिया। मीना नौटियाल खुद को हमले से बचा नहीं सकी। अन्य दो महिलाओं ने बमुश्किल जान बचाई और वहां से भाग निकली। उसके बाद गांव वालों को इस बात की जानकारी दी।

Post A Comment: