ऋषिकेश,02अक्टूबर( AKA) । जनपद टिहरी गढ़वाल के मुनिकीरेती व तपोवन क्षेत्र में अवैध  निर्माण कर्ताओ के विरुद्ध हरिद्वार विकास प्राधिकरण द्वारा की जाने वाली  खानापूर्ति की अपेक्षा  अब  अवमानना वाद दायर करना होगा। जिसे लेकर पुलिस ने प्राधिकरण को आगाह कर दिया है थाना मुनी की रेती प्रभारी आरके सकलानी का कहना  है कि  हरिद्वार विकास प्राधिकरण
अवैध निर्माण को रुकवाने को लेकर पुलिस को कार्य रुकवाने का नोटिस भेजकर इति श्री कर लेता है। हरिद्वार विकास प्राधिकरण इन्ही अवैध निर्माणों को बाद में जायज ठहराकर कॉम्पेनसेट भी कर लेता है। जिससे परेशान  पुलिस ने अपनी जिम्मेदारी दूसरे पर डालने की परंपरा से हटकर  हरिद्वार विकास प्राधिकरण के नोटिस प्राप्त होने के बाद किये निर्माण कार्यो को सील कर अवमानना वाद  188 आईपीसी के तहत न्यायालय में योजित करने की संस्तुति की है। रिपोर्ट में स्पष्ट रूप से अंकित किया गया है कि भविष्य में इन अवैध निर्माणों की वजह से कोई दुर्घटना होती है। तो इसकी जिम्मेदारी प्राधिकरण की होगी। जिसके चलते मुनी की रेती पुलिस ने गुरुवार को 3 दर्जन अवैध निर्माणों को सील कर वाद दायर करने की संस्तुति की है। मुनी की रेती पुलिस द्वारा लिए गए उक्त निर्णय का नगर वासियों ने स्वागत किया है क्योंकि प्राधिकरण की आड़ में तथाकथित पत्रकारों दबंगों द्वारा की जा रही निर्माण कसम से की जाने वाली  अवैध वसूली पर भी रोक लगेगी।

Post A Comment: