ऋषिकेश, 21सितंबर ।लायंस क्लब ऋषिकेश रॉयल की महिला इकाई द्वारा पंजाब सिंध क्षेत्र इंटर स्कूल की छात्राओं के साथ मासिक धर्म स्वच्छता कार्यशाला का आयोजन किया गया, कार्यशाला में छात्राओं मासिक धर्म के बारे में जागरूक किया। उनकी सुविधा के लिए मुफ्त सेनेटरी नैपकिन का वितरण किया।
कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि आई एम्स की डॉक्टर नंदिता एरेकल ने  बच्चों को बताया की मासिक धर्म को पीरियड्स या रजोधर्म भी कहते हैं। यह शारीरिक प्रक्रिया सभी क्रियाओं से अधिक महवपूर्ण है, पहली बार पीरियड्स होने पर जानकारी के अभाव में लड़कियां बहुत डर जाती है। इस प्रक्रिया से घबराने या कुछ गलत या गन्दा होने की हीन भावना महसूस करने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है। सिर्फ इसे समझना जरुरी है।
कार्यशाला में निर्मल आश्रम हॉस्पिटल में कार्यरत स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ प्रियंका गोयल ने मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करी और विद्यार्थियों को कहा कि पीरियड्स को एक सामान्य शारीरिक गतिविधि ही समझना चाहिए। जैसे उबासी आती है या छींक आती है। भूख, प्यास लगती है। उन्होंने मासिक धर्म के दिनों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान देने के हिदायत देते हुए कहा की सफाई ना रखने पर विभिन्न बीमारियां भी हो सकती है जो बाद में कैंसर का रूप भी ले सकती है। इसलिए स्वच्छता ही बीमारियों से बचने का एक मूल मंत्र है।

क्लब की महिलाओं ने आठवीं व नौवीं कक्षा की सभी विद्यार्थियों को मुफ्त सैनिटरी नैपकिंस के पैकेट वितरित किए और इसके नियमित इस्तेमाल के लिए बालिकाओं को प्रेरित किया।
पंजाब सिंध क्षेत्र स्कूल की गृह विज्ञान की अध्यापिका श्रीमती नीलम ने लायंस क्लब रॉयल की सभी महिलाओं का आभार व्यक्त किया

कार्यक्रम का संचालन लायन गीता अरोड़ा द्वारा किया गया इस अवसर पर सभी छात्राओं को कार्यक्रम सैयोजक मोनिका जैन,
लायन पूजा अग्रवाल, लायन ज्योति सिंघल, लायन युविका चंदानी, लायन आयुषी छाबड़ा, लायन नेहा जैन आदि मौजूद थे

Post A Comment: