नगर के बीच बने  कूड़े के डंपिंग जॉन को हटाए जाने की मांग को लेकर जागृति एक प्रयास संस्था के कार्यकर्ताओं ने त्रिवेणी घाट पर जल समाधि लिए जाने का किया प्रयास

-पुलिस ने संस्था के संयोजक सहित चार लोगों को शांति भंग में किया गिरफ्तार




ऋषिकेश, 18 सितंबर (AKA)। ऋषिकेश हरिद्वार मार्ग पर  नगर निगम द्वारा डाले जा रहे, कूड़े के डंपिंग को हटाए जाने की मांग को लेकर जागृति एक प्रयास संस्था द्वारा बुधवार को दी गई ,त्रिवेणी घाट पर गंगा में जल समाधि लिए जाने की चेतावनी के बाद पुलिस ने जागृति संस्था के संयोजक सहित चार लोगों को शांति भंग के आरोप में हल्के बल प्रयोग के बाद गिरफ्तार कर लिया है। वहीं पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को तोड़कर एक आंदोलनकारी ने लगाई गंगा में छलांग नहीं पुलिस के कर्मठ सिपाही कमल जोशी व सोनी ने तत्परता दिखाते हुए गंगा में कूदकर जल पुलिस की सहायता से उक्त व्यक्ति को बाहर निकाला । 6:00 बजे साधना ।उल्लेखनीय है कि जागृति एक प्रयास द्वारा पिछले 58 दिनों से ऋषिकेश हरिद्वार मार्ग पर नगर निगम द्वारा अवैधानिक रूप से किए जा रहे कूड़े के डंपिंग को हटाए जाने के विरोध में धरना प्रदर्शन के दौरान किए गए, बुधवार को त्रिवेणी घाट पर जल समाधि लिए जाने के ऐलान के चलते पुलिस द्वारा धरना स्थल परशुराम चौक से लेकर त्रिवेणी घाट तक आंदोलनकारियों की सुरक्षा को लेकर भारी  चाक-चौबंद व्यवस्था व्यवस्था की गई थी । उसके बावजूद आंदोलनकारी विभिन्न मार्गो से त्रिवेणी घाट पहुंचे ।और अपने तय समय अनुसार उन्होंने जल समाधि लिए जाने का प्रयास किया ।लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने धक्का-मुक्की के बीच मंच के संयोजक अरविंद हटवाल सहित चार लोग  पूर्व सभासद राम कुमार संगर, रजत प्रताप सिंह, विकास अग्रवाल, गौरव राजपूत ,को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया जिन्हे शांतिभंग में गिरफ्तार किया गया है। वहीं एक आंदोलनकारी सुरेंद्र सिंह नेगी ने पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था के बावजूद भी गंगा में छलांग लगा दी, जिसे तैराक पुलिस ने सकुशल गंगा से बाहर निकाल लिया।   इस दौरान  संस्था के अध्यक्ष अरविंद हटवाल  व रामकुमार संगर ने उपस्थिति को संबोधित करते हुए कहा कि यह निर्णय प्रशासन द्वारा उनकी पिछले 58 दिनों से चल रहे , धरना प्रदर्शन के बावजूद भी उनकी मांगों को न सुने जाने के कारण लिया गया है जबकि आज पूरा शहर गंदगी के कारण डेंगू जैसी महामारी बीमारी की चपेट में आ गया लेकिन नगर निगम तथा जिला प्रशासन कानों पर रुई डाल कर बैठा है ।जिससे स्थानीय नागरिकों में प्रशासन के खिलाफ भी रोष उत्पन्न हो रहा है, उन्होंने कहा कि उनका धरना प्रदर्शन आंदोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक नगर से कूड़े के डंपिंग जॉन को नहीं हटाया जाएगा। इस दौरान
इस दौरान संस्था के अध्यक्ष संस्थापक अरविंद हटवाल ,उपाध्यक्ष गौरव राजपूत, सचिव विकास अग्रवाल, व्यवस्थापक गुड्डू रावत, मीडिया प्रभारी रजत प्रताप सिंह के अतिरिक्त वेदप्रकाश धींगड़ा, पूर्व सभासद हरीश आनंद, रामकुमार संगर, कालूराम, जगजीत सिंह, उर्फ जग्गी, दिनेश प्रताप, सुरेंद्र सिंह नेगी, सिद्धार्थ शर्मा ,विनोद जायसवाल, संतोष पांडे, सौरभ नैथानी, कृष्णा पांडे रोहित रावत राहुल जायसवाल यूनिवर्र्सिटी राहुल जायसवाल नीरज पांडे सह सचिव


Post A Comment: