ऋषिकेश,02अगस्त (आज का आदित्य)। वर्ष 2029 में  जनपद टिहरी गढ़वाल के अंतर्गत  बनाए गए विश्वविख्यात लक्ष्मण झूला पुल के निकट 150.00 मीटर स्पान के वैकल्पिक पुल के निर्माण कार्य की प्रथम चरण की प्रशासकीय एवं वित्तीय तथा व्यय की स्वीकृति हेतु लोक निर्माण विभाग को प्रमुख सचिव उत्तराखंड ने अवगत कराया है । प्रमुख सचिव उत्तराखंड द्वारा लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि 150 मीटर के स्पान पोलो जिसकी लागत 303 .60 लाख है। पर शासन द्वारा परीक्षण उपरांत संस्तुत औचित्य पूर्ण धनराशि की प्रशासकीय तथा द्वितीय एवं व्यय की स्वीकृति प्रदान करते हुए चालू वित्तीय वर्ष 2019 में वह हेतु 10लाख रुपए की धनराशि आपके निर्वतन  में रखे जाने की राज्यपाल की शर्तों के अधीन सहर्ष स्वीकृति प्रदान की गई है जिससे समय बाद रूप से पूर्ण से कार्य किया जाएगा पत्र में यह भी कहा गया है कि यह कार्य 17 जून 2010 की व्यवस्था रुखसार विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कर शासन को विशेष स्वीकृति हेतु प्रस्तुत की जाएगी इस विस्तृत परियोजना रिपोर्ट प्रशासन से अनुमोदन प्राप्त होने के उपरांत से निर्माण कार्य प्रारंभ किया जाएगा पत्र में यह भी कहा गया कि इस  कार्य पर उतना ही व्यय किया जाए जितने की स्वीकृति है 21 से अधिक है कदापि न किया जाए यदि प्रथम चरण हेतु स्वीकृत की जा रही धनराशि में बचत हो रही है तो उसका समायोजन विस्तृत आगणन तैयार करते समय किया जाएगा यह निर्देश  2 अगस्त 2019 को किया गया है यहां यह भी बताते चलेगी इस पुल के निर्माण को लेकर यमकेश्वर विधानसभा क्षेत्र के विधायक रितु खंडूरी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी जिसके बाद यह स्वीकृति दी गई है यह स्वीकृति मिलने के बाद भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने खुशी जाहिर की है जिसमें गुरु पाल बत्रा,  महिला मोर्चा की महामंत्री कृष्णा , मनीष राजपूत,  गजेंद्र नागर, दीपा नोटियाल, शकुंतला राजपूत, मीनाक्षी भंडारी ,पूजा आर्य, गोपाल अग्रवाल, सचिन चोपड़ा आदि प्रमुख थे।

Post A Comment: