ऋषिकेश, 31 अगस्त- दिल्ली के तुगलक रोड में बने वर्षों पुराने संत शिरोमणि रविदास मंदिर को तोड़े जाने को लेकर शहर के दलित समाज में आक्रोश का माहौल है।
उत्तराखंड दलित शोषित विकास मंच के कार्यकर्ताओं ने मामले को लेकर केन्द्र व दिल्ली सरकार की घोर निंदा की है।मामले से गुस्साए दलित समाज के लोगों ने तहसील में जोरदार प्रदर्शन कर उपजिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया।
शनिवार की दोपहर  तहसील पहुंचे प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए मंच के प्रदेश अध्यक्ष जयपाल जाटव ने  कहा की संत रविदास का मंदिर तोड़े जाने से दलित समुदाय की आस्था को गहरा झटका लगा। जबरन मंदिर तोड़कर दलित समाज की आस्था के साथ खिलवाड़ किया गया है। जिसे बर्दाशत नहीं किया जाएगा।प्रेषित ज्ञापन में महामहिम राष्ट्रपति से
 दलितों पर हो रहे उत्पीडऩ पर रोक लगाकर मंदिर का निर्माण फिर से कराए जाने का अनुरोध किया गया है। प्रदर्शनकारियों में राजाभाऊ शास्त्री, सतीश जाटव,जतिन जाटव,सुनील गोस्वामी, पंकज जाटव,मंगल सिंह, संजय सिंह, आशीष राय,विनय दूबे आदि शामिल थे।

Post A Comment: