विकासनगर- जनसंघर्ष मोर्चा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश की जनता को धोखा देने के मामले में सी0एम0 श्री त्रिवेन्द्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को लेकर मोर्चा अध्यक्ष एवं जी0एम0वी0एन0 के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी के नेतृत्व में तहसील घेराव कर महामहिम राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन एस0डी0एम0 विकासनगर श्री कौस्तुभ मिश्र को सौंपा।
नेगी ने कहा कि जून 2019 में आयोजित नीति आयोग की बैठक में प्रदेश के मुख्यमन्त्री श्री त्रिवेन्द्र रावत जिनके पास उद्योग मन्त्रालय भी है, ने खुले मंच से घोषणा कर बताया कि वर्ष 2018 में आयोजित इन्वेस्टर्स समिट में किये गये एम0ओ0यू0 के सापेक्ष 109 प्रोजेक्ट्स पर 14545 करोड का निवेश हो चुका है, जबकि 11.07.2019 तक दस्तावेजों के आधार धरातल पर कुछ भी निवेश नहीं हुआ था, इसके साथ-साथ मार्च 2019 में लाखों रूपये खर्च कर झूठा विज्ञापन समाचार पत्रों में छपवाया गया कि करोड़ों रूपये का निवेश अब तक हो चुका है। यह प्रदेश की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा है।
नेगी ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट का ताजा अपडेट यह है कि 98 प्रोजेक्ट्स पर काम चल रहा है तथा इससे 13261 करोड का निवेश होगा, लेकिन ये धरातल पर कब उतरेगा, सरकार तक को मालूम नहीं।
महत्वपूर्ण यह है कि इन्वेस्टर्स समिट में सरकारी धन को ठिकाने लगाकर कहा गया कि 673 एम0ओ0यू0 साईन हो चुके हैं तथा इनमें एक लाख चैबीस हजार करोड के लगभग निवेश होगा, जबकि ये सारा मामला हवा-हवाई था। प्रदेश को कर्ज में डुबोकर झूठी वाह-वाही लूटने का काम किया गया।
मोर्चा शीघ्र ही इस मामले में राजभवन में दस्तक देगा।

घेराव मेंः- महासचिव आकाश पंवार, दिलबाग सिंह, विजयराम शर्मा, डॉ ओपी पवार, एसएन शर्मा ,बलदेव चौहान, सोम देश प्रेमी, मौ0 असद, विनोद गोस्वामी, ओपी राणा, डीपीएस रावत ,टीकाराम उनियाल ,श्रवण ओझा, सुभाष शर्मा, वीरेंद्र सिंह, कैसी चंदेल, मौ0 इस्लाम, मौ0 आशिफ, सुशील भारद्वाज, जयदेव नेगी, मनोज राय, प्रवीण शर्मा, मामराज, इदरीश, सचिन कुमार , राजेंद्र पवार, सफदर ,इसरार, रूपचंद, हाजी जमीन, भीम सिंह बिष्ट, अशोक गर्ग, मौ0 नसीम, अकरम आदि थे।

Post A Comment: