ऋषिकेश।  दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन की ओर से नई दिल्ली में आयोजित सम्मान कार्यक्रम में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत को चिकित्सा एवं चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए डीएमए विशिष्ठ चिकित्सा रत्न अवार्ड से नवाजा गया। नई दिल्ली स्थित एमएएमसी सभागार में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन की देखरेख में दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन की ओर से सम्मान समारोह आयोजित किया गया। समारोह में एसोसिएशन के अध्यक्ष डा. गिरीश त्यागी, राज्य सचिव डा. अरविंद चोपड़ा व संस्था के कोषाध्यक्ष डा. अशोक अग्रवाल ने एम्स ऋषिकेश के निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत को चिकित्सा व चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में विशिष्ठ सेवाओं के लिए एसोसिएशन की ओर से प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिह्न व अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने बताया कि हमारा संस्थान ऋषिकेश, उत्तराखंड में मरीजों को वल्र्ड क्लास स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने को प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रहा है। इस दौरान निदेशक ने संस्थान की उपलब्धियां गिनाते हुए बताया कि एम्स ऋषिकेश अन्य अंतरराष्ट्रीय चिकित्सा विश्वविद्यालयों की तर्ज पर मेडिकल चिकित्सा शिक्षा उपलब्ध करा रहा है, जिसके तहत संस्थान में आधुनिक स्किल सेंटर स्किल लैब विकसित की गई है। इसके अलावा अन्य अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर बहुआयामी कोर्स भी संचालित किए जा रहे हैं जो कि देश में राष्ट्रीय स्तर के गिने चुने संस्थानों में ही संचालित किए जा रहे हैं।  इस अवसर पर राज्यमंत्री डा. जितेंद्र सिंह, कुलपति प्रो. ओपी कालरा,डीन एमएएमसी डा. संजय त्यागी आदि मौजूद थे।

Post A Comment: