आपरेशन मुक्ति”
देहरादून /ऋषिकेश 8 जुलाई     उत्तराखंड पुलिस के  ऑपरेशन मुक्ति अभियान के तहत पुलिस ने भिक्षावृति में संलिप्त बच्चों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने एवं उनका भविष्य संवारने की कोशिश की गयी। भिक्षावृत्ति में लिप्त बच्चों को “भिक्षा नहीं, शिक्षा दें” स्लोगन के साथ पुलिस द्वारा 67 बच्चों के स्कूलों में एडमिशन कराये गए थे।
ऑपरेशन मुक्ति के दौरान बैंक मैनेजर श्री शुदामा प्रसाद जयसवाल  ने 20 बच्चों को शिक्षा दिलाने हेतु गोद लेने का वचन दिया था, जिसे वे बखूबी निभा रहे है, इन बच्चों के परिजनों की आर्थिक स्थिति अत्यंत खराब है,  जयसवाल द्वारा आज इन बच्चों को कपडे, चप्पलें, साबुन, टूथपेस्ट, टूथब्रश दिए गए। साथ ही बच्चों को स्कूल लाने-लेजाने के लिए वाहन चालक को 1 माह का किराया एडवांस दिया गया।  जयसवाल जी ने बताया कि इन बच्चों के माता पिता के रोजगार के लिए भी मैं प्लानिंग कर रहा हूं।

Post A Comment: