कोरिया के विशेषज्ञों ने अधिकारियों संघ की बैठक


ऋषिकेश ,18जुलाई ( आज का आदित्य)। कोरिया देश के एक्पर्टो की सहायता से ऋषिकेश नगर निगम ,मुनि की रेती, स्वर्ग आश्रम  क्षेत्र को गंदगी  मुक्त बनाये जाने की दिशा मे आयोजित बृहस्पतिवार को बैठक के दौरान योजना का खाका  संयुक्त रूप से तैनार किया गया है। ऋषिकेश नगर निगम की महापौर अनिता ममगांई की अध्यक्षता  मे निगम के सभागार मेे आयोजित बैठक मे कोरिया के  यू आर  इंडस्ट्री एंड टेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट के साथ संयुक्त बैठक में देहरादून हरिद्वार ऋषिकेश में कूड़ा निस्तारण की योजना पर कोरिया की,  किटी के  वरिष्ठ प्रबंधक येचेन जोंग, सहायक वरिष्ठ प्रबंधक  ली सैंगक्यूग,  एडीबी के वरिष्ठ अर्थशास्त्री तादातेरू हयाशी, ने  कहा कि किसी भी योजना को पब्लिक के बिना सहयोग को सफल नही किया जा सकता ।उन्होंने कहा कि सभी योजनाओ को सफल बनाने के लिए केंद्र व राज्य सरकारो को कडे कानून बनाने होगे। हम योजनाओं को लागू करने से पहले बारिकी के साथ अध्यन करने के बाद ही समस्याओं का समाधान किये जाने पर ही उसे लागू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि हमारे यहां तीन प्रकार का कूड़ा एकत्रित किया जाता है। जिसमें जनता की सहभागिता अधिक होती है जबकि वहां के नगर पालिका उस कूड़े को को बेचकर राजस्व प्राप्त करती है जिसको एकत्रित किए जाने मैं भी जनता का सहयोग होता है। इस दौरान निगम की महापौर अनिता ममगांई ने नगर से निकलने वाले जैविक अजैविक कूडे का निस्तारण कम लागत मे किये जाने के साथ जमीन कके न होने का मुद्दा भी उठाया। वहीं उन्होंने प्रतिदिन हजारों टन निकलने वाले कूडे को हरिद्वार ले जाये जाने मे असर्मथता व्यक्त की ।तो मुनि की रेती पालिका अध्यक्ष रोशन रतूड़ी ने कहा कि  मुनि की रेती हो या स्वर्गाश्रम बहार से आने वाले लोग पूरे क्षेत्र को ऋषिकेश के रुप मे ही जानते है।इसलिए जो भी योजना बनाई जाये उसमे तीनो क्षेत्रों को ही ध्यान मे रख कर बने तो, जन उपयोगी होगा।बैठक मे एडीबी के सागुता दास  गुप्ता, रवि पाण्डेय, सहित निगम क्षेत्र  मुख्य आयुक्त चतर सिंह, सहांंयक आयुक्त उत्तम सिंह नेगी, मुनि की रेती के  बद्री प्रसाद भट्ट,सहित मुनि की रेती स्वर्गाश्रम नगर पालिका के पार्षदों व सभासदो ने भी भाग लिया ।

Post A Comment: