ऋषिकेश। श्री शनिदेव महाराज की जय प्रत्येक शनिवार को त्रिवेणी घाट ऋषिकेश में दिन के 1:00 बजे भगवान श्री शनिदेव जी का भोग लगाया जाता है तथा वह महाप्रसाद लोगों में वितरण किया जाता है। यह सब व्यवस्था मंदिर के द्वारा की जाती है भगवान श्री शनिदेव पर आने वाली चौधरी जोगी दानपात्र से प्राप्त होती है। सभी भंडारा कार्यक्रम में लगाई जाती है यह नियम मंदिर के महंत श्री गोपाल गिरी जी महाराज द्वारा बहुत दिनों से चलाई जा रही है। इसकी समस्त धनराशि एकमात्र धार्मिक कार्य में ही प्रयोग में लाई जाती है अतिथि मंदिर का जीर्णोद्धार रजत पात्र द्वारा किया जाना सुनिश्चित किया गया है। कोई भी सज्जन जो भगवान शनिदेव का भक्त हो वह रजत कार्य में अपना सहयोग प्रदान कर सकता है। लगभग इसमें ₹700000 की धनराशि व्यय होने की संभावना है। इस प्रकार शनिदेव का प्रतिदिन भोग प्रसाद एवं भंडारे हेतु भी वक्त बनाए जाने की योजना बनाई जा रही है। जिससे कि प्रतिदिन भगवान शिव शनि देव के नाम से दिन के 1:00 बजे भंडारा किया जाए जोकि सभी महानुभाव के लिए खुला रहेगा। जिसके लिए हमें अधिक से अधिक सनी भक्तों की आवश्यकता है जो कि चावल दाल सब्जी आटा तेल नमक मिर्च मसाला गैस आदि की व्यवस्था में हमारा सहयोग कर सकें जो भी सज्जन सहयोग करना चाहे वह व्यक्ति शनिधाम त्रिवेणी घाट ऋषिकेश पिपलेश्वर सनी मंदिर गौरी शंकर महादेव त्रिवेणी घाट ऋषिकेश से संपर्क स्थापित कर सकते हैं जय जय श्री शनि देव महाराज की जय।

Post A Comment: