इस्लामाबाद: पाकिस्तान में एक बार फिर भारतीय राजनयिकों का उत्पीड़न हुआ है। पाकिस्तानी सुरक्षा अधिकारियों ने इफ्तार के आयोजन के दौरान भारतीय राजनयिकों का उत्पीड़न किया। खबरों के अनुसार, इफ्तार के दौरान इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास में जिन मेहमानों ने हिस्सा लिया उनके साथ पाकिस्तानी सुरक्षा अधिकारियों द्वारा मारपीट की गई और इफ्तार का आयोजन नहीं करने दिया गया।
 इस घटना के बाद एक वीडियो सामने आया है जिसमें पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया उत्पीड़न पर कह रहे हैं- 'सबसे पहले आप सबको मुबारकबाद। आप सब लोग यहां आए आपका शुक्रिया। मैं आपसे माफी भी मांगना चाहूंगा, क्योंकि आपको अंदर आने में काफी तकलीफ भी हुई और कई अंदर नहीं आ पाए। ये सिलसिला हमारा इफ्तार का कई साल पहले शुरू हुआ।'
यह पहला मौका नहीं है जब पाकिस्तान ने इस तरह की हरकत की हो। इससे पहले भी पाकिस्तान ने पिछले महीने मई माह के दौरान इसी तरह की हरकत करते हुए भारतीय राजनयिकों का उत्पीड़न किया था। तब इस्लामाबाद के सच्चा सौदा गुरुद्वारे में 2 भारतीय राजनयिक लगभग 15 मिनट तक बंद रहे थे। साथ ही भारत ने राजनयिकों की सुरक्षा को लेकर भी अपनी चिंता जाहिर की। 
इसी साल अप्रैल में पाकिस्तान में भारतीय राजनयिक और दूतावास के अधिकारियों को सिख श्रद्धालुओं से मिलने से रोक दिया गया था। भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस पर कड़ा विरोध दर्ज कराया इसके बाद मामला से काफी गरमा गया था। भारत ने पाक की इस हरकत पर आपत्ति भी जताई थी। तब मंत्रालय ने कहा था, 'भारत ने तीर्थयात्रा पर गए श्रद्धालुओं से भारतीय राजनयिकों और उच्चायोग की टीमों को नहीं मिलने देने पर कड़ा एतराज प्रकट किया है।'

Post A Comment: