ऋषिकेश।  अ​खिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में विश्व तंबाकू निषेध दिवस के उपलक्ष्य में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन नर्सिंग एजुकेशन एंड रिसर्च (कॉलेज ऑफ नर्सिंग) व मनोरोग विभाग के संयुक्त तत्वावधान में जनजागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें बीएससी नर्सिंग की पोस्टर प्रतियोगिता में हर्षा एवं करिश्मा अव्वल रहीं। सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन नर्सिंग एजुकेशन एंड रिसर्च (कॉलेज ऑफ नर्सिंग) में आयोजित वर्ल्ड नो तोबाको- डे पर आयोजित कार्यक्रम में अपने संदेश में एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने इस वर्ष की थीम तंबाकू और फेफड़ों का स्वास्थ्य विषय पर प्रकाश डाला। उन्होंने तंबाकू के सेवन से फेफड़ाें में होने वाले दुष्प्रभाव तथा बीमारियों के बारे में भी चर्चा की। निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि तंबाकू व धूम्रपान नहीं करने के दृढ़ संकल्प से ही हर साल तंबाकू के सेवन से होने वाली मौतों को रोका जा सकता है। मनोरोग विभागाध्यक्ष डा. रवि गुप्ता ने तम्बाकू के सेवन से होने वाली बीमारियों पर व्याख्यान दिया। साथ ही तंबाकू की लत को खत्म करने के लिए एम्स संस्थान में उपलब्ध उपचार सुविधा से भी अवगत कराया। नर्सिंग डीन प्रो. सुरेश कुमार शर्मा ने तंबाकू सेवन से होने वाले शारीरिक दुष्प्रभाव और इसकी रोकथाम के उपायों पर विस्तृत चर्चा की। इस अवसर पर बीएससी नर्सिंग की पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें द्वितीय व तृतीय वर्ष की छात्राओं ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में हर्षा एवं करिश्मा प्रथम, काजल शर्मा व सोनी ने द्वितीय व तरुणम अहमद ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। इस अवसर पर मनोरोग विभाग के सह आचार्य डा. विशाल धीमान, सहायक आचार्य डा. अनिरुद्ध बासू, कॉलेज ऑफ नर्सिंग की सहायक आचार्य जेवियर बेल्सी, दिनेश कुमार शर्मा, रश्मि रावत आदि मौजूद थे।

Post A Comment: