ऋषिकेश, 07 जून ।, प्राचीन बनखंडी महादेव मंदिर में संत समिति  ऋषिकेश , की  शुक्रवार को आयोजित  बैठक  मे विगत दिनों प्राचीन सोमेश्वर महादेव मंदिर को षड्यंत्र के तहत बदनाम करने के प्रयास के आरोपियों के खिलाफ पुलिस द्वारा कार्यवाही न किये जाने  पर रोष  व्यक्त किया गया । संत समिति के  अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत की अध्यक्षता में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए समिति के महामंत्री महंत रामेश्वर गिरी ने बताया कि विगत दिनों प्राचीन सोमेश्वर महादेव मंदिर जिसका पुराणों में भी वर्णन है ,को  कुछ अराजक तत्वों द्वारा षड्यंत्र करके बदनाम करने का प्रयास किया गया तथा मंदिर परिषर व आस पास असामाजिक तत्वों व नशाखोरों के खिलाफ समिति द्वारा लिखित रूप से स्थानीय पुलिस प्रशासन के साथ ही उच्च अधिकारियों को भी पत्र के माध्यम से शिकायत भेजी गयी थी परन्तु  षड्यंत्रकारियो के खिलाफ न तो कोई  कार्यवाही की गयी न ही नशा खोरो एवम असामाजिक तत्वों पे लगाम लगाई गयी
विगत 25 मई को असामाजिक व नशाखोरों द्वारा मंदिर के दान पात्र की चोरी की गयी । इसकी सूचना पुलिस को दिए जाने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है ।जिसके कारण तमाम संतो में पुलिस के प्रति रोष व्याप्त हो रहा है।
संत समिति की बैठक के अंत में   अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने बताया कि विगत दिनों प्रदेश के वरिष्ट काबीना मंत्री  प्रकाश पंत के आकस्मिक निधन से संत समाज में आपार दुख है , स्वर्गीय पंत जी मृद्व भाषी सरल स्वभाव पार्टी से ऊपर उठ कर काम करने वाले संसदीय परम्परों के परम ज्ञाता होने के साथ साथ सदैव संतो महापुरुषों की सेवा किया करते थे उनके आकस्मिक निधन के कारण निश्चित ही संत समाज के साथ  ही प्रदेश की भी अपूर्ण छति हुई है समस्त संतो द्वारा श्रधांजलि अर्पित करने के साथ ही दो मिनट का मौन रख कर गंगा माता से उनकी आत्मा की शांति हेतु प्राथना की गयी ।।इस अवसर पर महामंडलेश्वर डॉ आनंद प्रकाश , महंत अखिलेश भारती , महंत पूर्णानंद , महंत धर्मानंद , महंत राकेशनन्दः , महंत निर्मलदास , महंत हरिनारायणाचार्य , महंत कृष्णानंद , स्वामी धर्मवीर दादूपंती , महंत हरिदास , महंत विवेकानंद सरस्वती , महंत राजेन्द्र गिरी , महंत राकेसानन्द सरस्वती , महंत श्रद्धागिरी माता , महंत हरेश्वरी माता , महंत आनंद स्वरूप बह्मचारी , महंत लोकेश दास , महंत जगदीसानंद , स्वामी ध्यानदास कोतवाल , महंत विभानन्द , महंत राम बह्मचारी , पंडित रवि शास्त्री व गौतम नौटियाल आदि उपस्थित थे ।

Post A Comment: