देहरादून। 17वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में जनता ने प्रचंड बहुमत के साथ देश की बागडोर फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों में सौंप दी है। बीजेपी ने इस बार 2014 से बड़ी ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है प्रधानमंत्री पद की दोबारा शपथ लेने के बाद मोदी केदारनाथ धाम आ सकते है। लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण के मतदान से पहले 18 मई को पीएम मोदी केदारनाथ धाम आए थे। इस दौरान उन्होंने केदारनाथ धाम में विशेष पूजा-अर्चना भी की थी। साथ ही एक क्विंटल का घंटा भी दान किया था। इसी के साथ पीएम प्राचीन गुफा में भी रुके थे, जहां उन्होंने करीब 18 घंटे तक साधना की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि, मैं बाबा के धाम में मांगने नहीं आया हूं, बल्कि बाबा ने मुझे देने योग्य बनाया है और मैं हमेशा कोशिश करता हूं कि देश की बेहतरी के लिए काम कर सकूं। इसके बाद वे अगले दिन 19 मई को बदरीनाथ धाम गए थे। पीएम मोदी अपने जीवन के अहम मौकों पर बाबा केदार के दर्शन के लिए जरूर आते हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि शपथ ग्रहण समारोह के बाद पीएम मोदी एक बार फिर बाबा केदार के दर पर आशीर्वाद लेने आ सकते है। बता दें कि साल 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी चार बार बाबा केदार के दर पर आशीर्वाद लेने आ चुके हैं। वह देश के पहले प्रधानमंत्री भी हैं,जोकि चार बार बाबा केदार के धाम आए।

Post A Comment: