देहरादून I केदारनाथ धाम के लिए सेरसी से दो और कंपनियों को हेली सेवा संचालन का काम दिया गया। अब नौ कंपनियों की हेली सेवा चलने से यात्रियों को टिकट के लिए लंबे इंतजार से राहत मिलने की उम्मीद है। वहीं, सोमवार से जीएमवीए के माध्यम से हेली सेवाओं के आनलाइन टिकटों की बुकिंग शुरू होने की संभावना है।
उत्तराखंड सिविल एविएशन डवलपमेंट अथारिटी(यूकाडा) ने हाईकोर्ट से राहत मिलने के बाद हेली सेवाओं के टेंडर प्रक्रिया पूरी कर नौ कंपनियों को फाटा, गुप्तकाशी और सेरसी से हेली सेवाएं संचालित करने का काम दिया था। लेकिन सरकार की ओर से निर्धारित किराये पर दो कंपनियों ने हेली सेवा संचालित करने से इनकार कर दिया था, जिससे यूकाडा ने दोबारा टेंडर आमंत्रित किए।

इसमें सेरसी हेलीपैड से हेरिटेज और क्रिस्टल एविएशन कंपनी को हेली सेवा का काम मिला है। अब केदारनाथ के लिए कुल नौ कंपनियों की हेली सेवा होने से यात्रियों को टिकट के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

केदारनाथ के लिए और हेली सेवाएं बढ़ाने के लिए सरकार को डीजीसीए की अनुमति मिलने का इंतजार है। यदि डीजीसीए से अनुमति मिलती है तो जल्द ही देहरादून और अन्य स्थानों से केदारनाथ के लिए यात्रियों को चार्टर्ड हेली सेवा उपलब्ध होगी।  

सरकार की ओर से तय हेली सेवा का किराया

स्थानवर्तमान किराया दरें  वर्ष 2018 में निर्धारित दरें   हेलीपैड संख्या
फाटा से केदारनाथ 4798 रुपये     6700 रुपये    4
सेरसी से केदारनाथ 4940 रुपये 6350 रुपये    3
गुप्तकाशी से केदारनाथ  8550 रुपये     7300 रुपये      2
गोबिंद घाट से घंघरिया 5590 रुपये  5790 रुपये1
                          
केदारनाथ के लिए इन कंपनियां की हेली सेवा 
 
हेलीपैड  हेली कंपनी
गुप्तकाशी  आर्यन एविएशन, एरो क्राफ्ट
सेरसी       हेरिटेज व क्रिस्टल एविएशन कंपनी
फाटा   पवन हंस, इंडो क्राफ्ट, यूटी एयर, थंबी एविएशन
गोबिंद घाट   डेकन चार्टर्ड एविएशन


टेंडर प्रक्रिया पूरी करने के बाद केदारनाथ के लिए दो और कंपनियों को हेली सेवा का काम दिया गया है। यात्रियों की सुविधा के लिए सोमवार से जीएमवीएन की वेबसाइट पर भी ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग शुरू की जाएगी। हेली सेवा बढ़ाने के लिए डीजीसीए को प्रस्ताव भेजा गया है। अनुमति मिलने के बाद ही हेली सेवाएं बढ़ाई जाएगी।
-दिलीप जावलकर, सचिव एवं सीईओ, यूकाडा

Post A Comment: