नैनीताल।  सोमवार को उत्तराखंड उच्च न्यायालय के नव नियुक्त अपर न्यायाधीश न्यायमूर्ति आलोक कुमार वर्मा ने हाईकोर्ट मुख्य न्यायाधीश कोर्ट में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रमेश रंगनाथन ने उन्हें शपथ दिलाई। जस्टिस वर्मा के शपथ लेने के बाद हाईकोर्ट में न्यायाधीशों की संख्या दस हो गई है जबकि मुख्य न्यायाधीश समेत न्यायधीशों के कुल 11 पद हैं। सुबह करीब साढ़े नौ बजे रजिस्ट्रार जनरल प्रदीप पंत ने राष्ट्रपति की ओर से की गई नियुक्ति, विधि एवं न्याय मंत्रालय की अधिसूचना व राज्यपाल की ओर से मुख्य न्यायाधीश को शपथ दिलाने को अधिकृत करने संबंधी अधिसूचना का वाचन किया। इस अवसर पर जस्टिस सुधांशु धूलिया, जस्टिस आलोक सिंह, जस्टिस मनोज कुमार तिवारी, जस्टिस लोकपाल सिंह, जस्टिस शरद कुमार शर्मा, जस्टिस एनएस धानिक, जस्टिस रमेश खुल्बे, जस्टिस रवींद्र मैठाणी, महाधिवक्ता एसएन बाबुलकर, मुख्य स्थाई अधिवक्ता परेश त्रिपाठी, शासकीय अधिवक्ता जीएस संधू, जिला जज नरेंद्र दत्त, पूर्व जस्टिस सर्वेश कुमार गुप्ता, जस्टिस यूसी ध्यानी, जस्टिस इरशाद हुसैन, राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण सदस्य सचिव प्रशांत  जोशी, रजिस्ट्रार अनुज संगल, हाईकोर्ट बार एशोसिएशन अध्यक्ष पूरन बिष्ट, सचिव जयवर्धन कांडपाल, वरिष्ठ अधिवक्ता डीके शर्मा, विजय भट्ट, पंकज पुरोहित समेत सैकड़ों अधिवक्ता व न्यायिक अधिकारी मौजूद थे।

Post A Comment: