देहरादून I छात्रवृत्ति घोटाले में प्राइवेट शिक्षण संस्थानों के संचालकों पर कार्रवाई के साथ अब समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों से पूछताछ होगी। एसआईटी ने विभाग के नोडल अधिकारी आईटी सेल अनुराग शंखधर और तीन सहायक समाज कल्याण अधिकारियों को नोटिस जारी किए हैं। शनिवार को एसआईटी इन अधिकारियों से पूछताछ करेगी।
एसआईटी हरिद्वार के शिक्षण संस्थानों में अब तक करीब पचास करोड़ का घोटाला पकड़ चुकी है। फर्जी दस्तावेज के आधार पर छात्रवृत्ति हड़पने के आरोप में विभिन्न संस्थानों के पांच पदाधिकारियों को जेल भेजा जा चुका है। इनमें एक मंगलौर क्षेत्र के कांग्रेस विधायक काजी निजामुद्दीन का भाई तो दूसरा रुड़की क्षेत्र के पूर्व विधायक और कांग्रेस नेता सुरेश चंद जैन का भतीजा है।

घोटाले का एक मुकदमा देहरादून में भी विचाराधीन है। एसआईटी कई संस्थानों के दस्तावेजों के सत्यापन में जुटी है। देर-सवेर देहरादून के शिक्षण संस्थान संचालकों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी तय मानी जा रही है। इस छात्रवृत्ति घोटाले में समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की आवाज लगातार उठ रही है।

Post A Comment: