देहरादून, 05। जिलाधिकारी एस.ए मुरूगेशन की अध्यक्षता में उनके कैम्प कार्यालय में बायोवेस्ट और साॅलिड वेस्ट मैनेजमेन्ट प्रबन्धन समिति की बैठक आयोजित की गयी।
जिलाधिकारी ने बैठक में जनपद के सभी नगर निकायों से वर्तमान में उनके द्वारा डोर-टू-डोर  कलेक्शन, सेपरेट तरीके से (जैविक-अजैविक) कूड़ा उठान, उसका ट्रांसपोर्ट और सैरिगेशन, प्रोसेसिंग, रिसाइक्लिंग इत्यादि कूड़े निस्तारण की वर्तमान प्रगति का विवरण प्राप्त किया। उन्हें सभी निकायों को अपने-अपने क्षेत्र में बायोमेडिकल वेस्ट के प्रबन्धन और 50 माइक्रोन से छोटे प्लास्टिक के उपयोग पर रोकने के प्रयासों का भी विवरण प्राप्त किया तथा भविष्य में नगर निकायों (नगर निगम और नगर पालिका)द्वारा  बढती शहरी जनसंख्या और वर्तमान पर्यावरणीय सुरक्षा के प्रतिमानों की मांग के अनुसार बाॅयोमेडिकल वेस्ट, प्लास्टिक उपयोग रोकने और साॅलिड वेस्ट प्रबन्धन की कार्ययोजना के प्रयासों की भी जानकारी प्राप्त की । उन्होंने सभी निकायों को 50 माइक्रोन से छोटे प्लास्टिक के उपयोग रोकने को लगातार अभियान चलाते हुए उसको जब्त करने और उल्लंघन करने वाले प्रतिष्ठानों और संस्थानों पर नियमानुसार जुर्माना और आर्थिक दण्ड तामिल करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने सभी निकायों को निर्देश दिये कि एनजीटी (राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण) के निर्देशों के क्रम में साॅलिड वेस्ट मैनेजमैन्ट और बाॅयो वेस्ट मैनजेमैन्ट सहित प्लास्टिक का उपयोग रोकने के वर्तमान में किये जा रहे प्रयासों और भविष्य में इसके लिए निकायों के स्तर पर बनायी जा रही कार्ययोजना इत्यादि को सभी नगर निकाय आपस में कंपाइल करते हुए तत्काल उसका विवरण शासन को प्रेषित करें।
इस अवसर पर वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम डाॅ आर.के सिंह, क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण कन्ट्रोल बोर्ड अमित पोखरियाल सहित नगर निगम ऋषिकेश और नगर पालिका डोईवाला, मसूरी हबर्टपुर, विकासनगर आदि के  अधिशासी अधिकारी उपस्थित थे।

Post A Comment: