ऋषिकेश 13 मार्च। एम्स से निष्कासित कर्मचारी संघर्ष मोर्चा के धरने के 18वाँ दिन भी जारी रहा। जिसमे क्रमिक अनशन में बैठने वालों में दीपक गुसाईं मनोज बिष्ट सुनील खंडूरी तथा धरने में बैठने वाले दीपक रयाल मोनिका सोनू शिवा सिंह दयाराम विकास रावत गोवर्धन बलोनी अशोक कुमार अमित बलोनी ज्योति रमा कंचन भानु नागेंद्र पापिन कुमार बलबीर सिंह नेगी मनदीप सहीद एहमद कोसिम रोहित कुसुम रमन मनोज प्रिया संगीता चौहान शीतल अनिता भंडारी तमाम कर्मचारी उपस्थित रहे। कई सालों से एम्स में सेवाएं दे रहे कर्मचारी अमित बलोनी ने कहा की हम मानसिक तनाव में आ चुके है यदि एम्स प्रशासन हमारी मांगो को नही मानता है तो जल्द ही हम परिवार सहित धरने में बैठ बैठने को मजबूर हो जाएंगे फिर किसी भी अप्रिय घटना होती है तो इसकी पूर्ण जिम्मेदारी एम्स प्रशासन की होगी। समर्थन देने वालो में  भारतीय जनता पार्टी कॉंग्रेस पार्टी  उत्तराखंड क्रांतिदल राज्य आंदोलनकारी व उत्तराखंड बेरोजगार संघ ऋषिकेश नगर निगम के तमाम पार्षदों तथा पी.जी. कॉलेज के छात्रों ने समर्थन दिया। जिनमे मुख्य रूप से अरविंद हटवाल राइट टू हेल्थ ,नवीन शर्मा बेरोजगार संघ सलाहकार, कुलदीप ममगई शांति प्रसाद भट्ट यूकेडी वेदप्रकाश शर्मा अध्यक्ष राज्य आंदोलनकारी संघर्ष समिति आर.पी. भट्ट यूकेडी आनंद सिंह तड़ियाल यूकेडी युद्धवीर सिंह यूकेडी विक्रम सिंह भंडारी आंदोलनकारी डी एस गुसाईं प्रदेशमंत्री करमचंद गुसाईं आंदोलनकारी मनीष मनवाल पार्षद शिवकुमार गौतम पार्षद राजेन्द्र बिष्ट पार्षद संजीव चौहान सांसद प्रतिनिधि वेदकिशोर रयाल विनीत सेमल्टी हिमांशु रयाल एडवोकेट विवेक भंडारी जी आर उनियाल आदि मौजूद रहे।

Post A Comment: