ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में आयोजित 10 दिवसीय ग्रीष्मकालीन कराटे प्रशिक्षण शिविर विधिवत संपन्न हो गया। शिविर में 100 से अधिक चिकित्सकों,फैकल्टी, छात्र-छात्राओं व बच्चों ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर चार प्रतिभागियों को कुशल प्रशिक्षण अवार्ड से नवाजा गया।एम्स परिसर में आयोजित कराटे प्रशिक्षण शिविर के समापन अवसर पर संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने कहा कि बच्चों के लिए पढ़ाई के साथ- साथ खेल में भी रूचि रखना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि शिविर में शामिल होने वाले चिकित्सकों व विद्यार्थियों ने अपनी सुरक्षा के प्रति जो जागरूकता दिखाई है यह संस्थान के लिए भी गर्व की बात है। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने बताया कि विभिन्न खेलों के प्रोत्साहन के लिए संस्थान द्वारा भविष्य में भी इस तरह के शिविरों का आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर निदेशक एम्स प्रोफेसर रवि कांत व डीन (एलुमिनाई) प्रो.बीना रवि ने कराटे प्रशिक्षुओं को प्रमाणपत्र वितरित किए। शिविर में शामिल चार प्रतिभागियों को कुशल प्रशिक्षण अवार्ड से नवाजा गया। इनमें एम्स नर्सिंग कॉलेज की छात्रा प्रियंका मवानी ने प्रथम, डीएसबी इंटरनेशनल स्कूल की शिमोल शर्मा ने द्वितीय, नर्सिंग छात्रा हिमानी ने तृतीय व पायल ने चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। रेन्बकाई कराटे सोसायटी के कोषाध्यक्ष राहुल कुमार ने बताया कि चयनित प्रतिभागियों को एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत व डीन (एलुमिनाई) प्रो.बीना रवि ने संस्था की ओर से प्रमाणपत्र व स्मृति चिह्न भेंट कर सम्मानित किया। शिविर के समापन अवसर पर रेन्बकाई कराटे सोसायटी ऋषिकेश के अध्यक्ष सेंसेई कमल बिष्ट, राहुल कुमार, आकाश गैरोला, सार्थक धीमान, अंश ठाकुर, विशाल आदि मौजूद थे।

Post A Comment: