देहरादून। प्रदेश में जहरीली शराब के सेवन से 36 लोगों की मौत के बाद अब सरकार इस तरह की घटनाओं की रोकथाम के लिए सख्त कानूनी प्रावधान करने जा रही है। इस कड़ी में राज्य सरकार जहरीली शराब के धंधे में शामिल लोगों पर सख्त कार्रवाई के लिए मौजूदा सत्र में विधेयक ला रही है। इसमें नकली व जानलेवा शराब बेचने के दोषियों के लिए उम्रकैद तक का प्रावधान करने की तैयारी है। 

जहरीली शराब से मौत जैसे मामलों की जांच के लिए एक अलग आयोग का गठन भी किया जा रहा है। इसके अलावा सरकार ने हालिया प्रकरण की विस्तृत जांच के लिए पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल, अजय रौतेला के नेतृत्व में छह सदस्यीय एसआइटी का गठन किया है।

सोमवार को विधानसभा परिसर में पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि जो घटना हरिद्वार जिले में हुई और जिसके कारण रुड़की तहसील व पड़ोसी राज्य में अनेक लोगों की मौत की हुई, उस पर सरकार ने त्वरित कार्रवाई की है। लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को निलंबित किया गया है, साथ ही संयुक्त जांच दल भी बनाया गया है। 

Post A Comment: