ऋषिकेश। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के चिकित्सकों व विद्यार्थियों का दल उत्तर पूर्वी राज्यों के लिए रवाना हो गया। दल विभिन्न राज्यों के सुदूरवर्ती इलाकों में स्वास्थ्य सेवाएं देने के साथ ही लोगों को विभिन्न रोगों व उनके निदान को लेकर जागरूक करेगी।  शुक्रवार को एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने संस्थान के 11 सदस्यीय चिकित्सकों व छात्र छात्राओं के दल को रवाना किया। इस दौरान निदेशक एम्स प्रो.  रवि कांत ने उन्हें शुभकामनाएं दी। निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने बताया कि  संस्थान की टीम नार्थ ईस्ट के त्रिपुरा, असम,नागालैंड, गुहावटी आदि के स्वास्थ्य संसाधन विहीन सुदूरवर्ती   इलाकों का भ्रमण करेगी। निदेशक एम्स ने बताया कि सप्ताहव्यापी अभियान के तहत टीम के सदस्य लोगों को विभिन्न बीमारियों से बचाव व उपचार की जानकारी देंगे। एम्स निदेशक प्रो.रवि कांत ने बताया कि संस्थान विभिन्न प्रांतों में सुदूरवर्ती इलाकों में जरुरतमंदों को लगातार चिकित्सा सेवाएं दे रहा है। इसी के तहत डॉक्टरों व स्टूडेंट्स की टीम नार्थ ईस्ट रवाना की गई है। जिसका उद्देश्य स्वास्थ्य सेवा से राष्ट्र सेवा है। गौरतलब है कि निदेशक प्रोफेसर रवि कांत की देखरेख में एम्स संस्थान की सोशल आउटरीच एक्टीविटी टीम विभिन्न क्षेत्रों में स्वास्थ्य शिविर व जनजागरूकता अभियान संचालित कर रही है। रवाना हुई टीम में डॉ.व्योमेश प्रताप, डॉ.अजीत, डॉ.पंकज,डॉ.शशि रेखा, डॉ.  मोहित शर्मा, हर्ष कुमार, सिसिरा धरन,अजय कोखर,शिवम कटारिया, विनीत कुमार शामिल थे।इस मौके पर रेडिएशन ओंकॉलॉजी विभागाध्यक्ष प्रोफेसर मनोज गुप्ता,डॉ.संतोष कुमार, डॉ.विनोद, डॉ.गीतांजलि आदि मौजूद थे।

Post A Comment: